13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: टॉयलेट के समय कल सादा रंग का छीज निकल कर बाहर आया

1 Answers
सवाल
Answer: सफ़ेद पानी अगर थोड़ी थोड़ी मात्रा में आए तो ये नार्मल है आप चिंता न करे लेकिन ज्यादा होने पर जरूर डॉक्टर की सलाह जरूर लीजिए। किसी किसी को ये प्रॉब्लम होता है जरुरी नहीं कि सब के साथ हो. ये एक तरह से अच्छा होता है ये आपके गुप्तांग को इन्फेक्शन फ्री बनता है ये आपके योनि को क्लीन करता है क्युकी इसमें मरे हुए टिश्यू होते है जो आपके शरीर से बहार निकल जाता है जो आपके लिए अच्छा है। अगर ये पानी गाढ़ा सफेद और गंधहीन हो तो कोई दिक्कत नहीं लेकिन अगर यह ब्राउन हो पिंक हो या इसमें ब्लड आये तो अपने डॉक्टर्स को बताए अगर इसमे बदबू आए तो भी डॉ को जरूर बताए..
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो मैम मेरे को कुछ दिन से टॉयलेट हार्ड हो रहा है तो कल टॉयलेट करने के समय खून निकल आया तू मे किया करु क्रिपेय bataya ????
उत्तर: हेलो डियर , गर्भवस्था में कॉन्स्टीपेशन होना बहोत आम बात है ये पहली तिमाहि से ही शुरू हो सकती है | प्रेग्नेसी मे हार्मोन प्रोजेस्टेरोन जो की पाचन तंत्र से भोजन के गुजरने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है ऐसे में कॉन्स्टीपेशन में राहत मिलने के लिए आप अपने खाने मे फ़यबर युक्त खाना खायें जैसे सीरियल्स और साबुत अनाज राजमा ,छोले,रागी की चपाति और ताज़ा फल और सब्जियां जैसे की अमरुद और सब्जियां जैसे गाजर,फ़ुलगोबि में ज़्यादा मात्रा में फ़ायबर होता है | खुब सारा पानी पीये दिन मे कम कम 8 से 12 ग्लास| फ़लो का ज्यूस पीये,नीम्बू पानी ,नारियल पानी ,लस्सी, छाच और सुबह उठने के बाद गुनगुने पानी में नींबू का रस डालकर पीने से मोशन आसानी से होते है | खाने मे घी का प्रयोग करे | ज़्यादा तकलिफ़ हो तो डॉक्टर की सलाह अवश्य ले |
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: टॉयलेट का रंग कैसा होना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर, देखिये वैसे तो टॉयलेट का कलर व्हाइट होना चाहिए पर अगर बॉडी मे कोई बीमारी या पानी की कमी या कोई दवाई ले रहे तो येलो कलर हो सकता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: टॉयलेट करते वक़्त प्रेशर dene पर fetus बाहर तो नही निकल jata है ना ?
उत्तर: हेलो नही ऐसा कुछ नही होता है आप इतना प्रेशर क्यों दे रही है क्या आपको मोशन सही नही हो रहें है .प्रेग्नेसी में कब्ज़ की समस्या शरीर में होने वाले हार्मोन में बदलाव के कारण होती है आप khane में ऐसे चीज़ें शामिल करे जिसमें फाइबर adhik होता है जैसे ankurit अनाज भूनें chane दाल हरी sabjiya l आप लेमन वाटर ले सकती है जो आपके पाचन को सही करने में हेल्प करेगा l पानी खूब पीये और हल्क गुनगुना पीए lआप आवले का murabba भी खा सकती है कब्ज की समस्या में ये राहत deta है lअलसी के बीज गर्भावस्था के दौरान होने वाली कब्ज के लिए उपाय हैं। इनमें फाइबर प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है l आप इसबगोल भी गरम पानी या गर्म ढूध के साथ लें आपको राहत मिलेगी मुनक्‍का में कब्‍ज नष्‍ट करने के तत्‍व मौजूद होते हैं। 6-7 मुनक्‍का रोज रात को सोने से पहले खाने से कब्‍ज समाप्‍त होती है। इसके अलावा सुबह उठने के बाद बिना कुछ खाए हुए, 4-5 दाने काजू के और 4-5 दाने मुनक्‍का के साथ खाइए, इससे कब्‍ज की शिकायत समाप्‍त होगी।आप प्रोबिओतिक दही का सेवन खूब करे आनर खायें और पानी भरपूर पीये ऍक्टिव रहे वॉक करे
»सभी उत्तरों को पढ़ें