कुछ दिनों की गर्भवती माँ

Question: जी खराब रहता हे उल्टी आती हे

4 Answers
सवाल
Answer: Hello dear.. आप अभी 1st trimster में है जिसमें vomit होना या मॉर्निंग सिकनेस बहुत ही नॉर्मल है| परेशान मत होइए| अपनी रूटीन सही रखे. खाली पेट बिल्कुल मत रहिए . थोड़ा-थोड़ा खाते रहिए. पौष्टिक आहार अपने खाने में रखें. खाना खाने के बाद थोड़ी सी अजवाइन खाएं. इससे आपकी पाचन क्रिया अच्छी रहेगी और उल्टी कम होने में मदद मिलेगी| अदरक का छोटा सा टुकड़ा भी अपने मुंह में रख सकती है जिससे कि आप vomit नहीं होंगे. सभी लेडीस के अलग-अलग प्रेग्नेंसी के अनुभव होते हैं . kisi ko बिल्कुल भी pareshani nahi होती .किसी को कुछ महीनों होती है किसी को कुछ हफ्ते होती है .आप बिल्कुल भी परेशान ना हो घबराएं नहीं आराम से अपने रूटीन रखें. खूब पानी पिएं .डॉक्टर की बताई हुई सलाह maane. और घर के कुछ ऐसे घरेलू upaay हैं जिनको अपनाकर इस परेशानी को ठीक कर सकते हैं हो सकता है आपको यह धीमे धीमे अब खत्म होती जाए . आप घर में कुछ ऐसे नुक्से कर सकती हैं jisse कि आपको आराम मिलेगा. खाना खाने के बाद आधा चम्मच अजवाइन का चूर्ण लिया करें| रोज सुबह एक गिलास गुनगुने पानी में थोड़ा सा नींबू डालकर le.आपको बहुत आराम मिलेगा. अगर अंकुरित करें तो उसमें आप प्याज टमाटर गाजर खीरा और थोड़े से नींबू के रस के साथ बनाएं इससे आपको फायदा भी होगा और स्वाद बनेगा . अलग-अलग फल खाने की कोशिश करें . Aaple में जैसे कि आप नमक लगाकर खा सकते हैं . मुसम्मी में काला नमक लगाकर खा सकते हैं. फ्रूट सैलेड खाएं| ध्यान रहे जब भी आप कोई फल खाया ya कोई खाने की चीज ले वह ताजी हो और साफ हो
Answer: शुरुआत के महीनो में लगभग 90 % महिलाओं को उल्टी और जी घबराने की परेशानी होती है। ज्यादातर यह हल्का फुल्का ही होता है और इसके लिए किसी विशेष उपचार की जरुरत नहीं होती। इसका कारण इस्ट्रोजन हार्मोन बढ़ना , तनाव , एसिडिटी, गंध ज्यादा आना इत्यादि हो सकते है। यह सभी को अलग तरह से यानि कम या ज्यादा , कम देर तक या अधिक देर तक या किसी को कम दिन के लिए और किसी को अधिक दिनों तक हो सकता है। किसी को सिर्फ जी घबराता है उल्टी नहीं होती और किसी को उल्टी भी होती है। घरेलू उपचार जैसे पूरे दिन कुछ न कुछ खाते रहना और अदरक युक्त पेय पदार्थों का सेवन करने से अक्सर मितली को दूर करने में मदद मिलती है।बहुत ज्यादा उल्टी हो तो उपचार की आवश्यकता होती है क्योकि इसकी वजह से शरीर में पानी की कमी होने की संभावना हो सकती है।
Answer: pregnancy ke 8 Ve mahine Tak aap ko ulti Aati Rahegi so aap Jyada liquid he aur Jose Le sakte ho aap Nariyal Pani
Answer: ये प्रेग्नैसी के समान्य लक्षण है इसके लिए आप डॉक्टर से कन्सल्ट कर दवाई भी ले सकती हैं .
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे बहुत उल्टी आती हे जी बहुत घबरा ता हे . मैं अभी 9 वे सप्ताह में हूँ
उत्तर: हेलो डिअर, प्रेग्नेंसीय के शुरुआती समय में हार्मोन चेंज होने की वजह से मुह फीका , मिचली जैसा और कड़वा और उल्टी होती है और घबराहट होती है , और ऐसे में खाना खाने का मन नही करता है ऐसा होना नार्मल बात है आप ऐसे में एक नींबू को आधा काट कर नीम्बू के ऊपर काला नमक , भुना पिसा जीरा डालकर गैस पर पका दे जब निम्बू पक जाए तब आप जब भी मुँह फीका , कड़वा, मिचली जैसा लगे आप इस नीम्बू को चाटे इससे आपके मुंह का जायका बदल जायेगा और भूख भी खुलकर लगेगी और आपको अगर भूख नही लगती है फिर भी आपको कुछ न कुछ खाते रहना चाहिए और पानी भी पीते रहना चाहिए , नही तो आप कमजोर हो जाएगी ऐसा आपको कुछ दिनों तक होगा बाद में सब ठीक हो जाएगा परेशान न हो ऐसा होना नार्मल बात है!
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: जी खराब रहता हे उलटी आती हे
उत्तर: प्रेगनेन्सी के शुरू के 3 माह मे ज़्यादातर महिलाओ के उलटी की प्रॉब्लम होती हि है , जैस जैस प्रेगनेन्सी बढ़ने लगेगा , उलटी चक्कर की तकलीफ़ काम हों जाएगी , आप उल्ती के लिए ये ट्राइ करे , आराम मिलेगा जिस भोजन में फाइबर की मात्रा ज्यादा हो उनका सेवन करें नींबू को काटकर बीज निकाल दें। कटे हुए नींबू पर थोड़ा सेंधा नमक और काली मिर्च पाउडर डालकर चूसने से उल्टी और जी मिचलाना कम हो जाता है संतरा और अनार खाने से उल्टी में आराम मिलता है हरा धनिया ( धनिये की पत्ती ) का रस रस निकाल कर एक एक चम्मच लेते रहने से उल्टी होना बंद होता है तनाव को कम करे,ज्यादा पानी पीए,रोज शाम को थोड़ा walk करे .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: medam जी muje पेर मे दर्द रहता हे और रात को नीन्द नही आती
उत्तर: प्रेगनेंसी के आखरी तीन मंथ में पेट के बहुत ज्यादा बहार निकल जाने से हमारे कमर पर जोर पड़ता है जिससे कमर दर्द और पैर दर्द की शिकायत होती है। वजन बढ़ जाने की वजह से पैरो में भी दर्द रहता है। आप करवट लेकर लेफ्ट साइड करके सोय। दोनो पैरो के बीच में तकिया लेकर सोये। इससे बहुत आराम मिलेंगा। आप सरसो के तेल से हलकी हलकी मालिश भी कर सकती है। कामर के दर्द और पैरो के दर्द के लिए सरसो का तेल बहुत फायदेमंद रहता hai आप रात मि आपने पसन्द के halka म्यूज़िक सनते हुए सोने की कोशिश कीजिए . या फ़िर आपने पसन्द की किताब padhiye .. आपको इससे अच्छी नीन्द आयेगी ...
»सभी उत्तरों को पढ़ें