21 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: प्लेसंट प्रेविया क्या hai

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर आप बिल्कुल भि परेसन ना हो हो सकता है की बेबी के वज़न बढ़ने से बड़ा हुआ गर्भाशय प्लेसेन्टा को उपर की ऑर खीच लेगा यदि प्रेग्नेन्सी के लास्ट में प्लेसेन्टा आपकी ग्रीव को dhnk लता है तो नॉर्मल डिलेवरी हो सकती है ऑर यदि ग्रेव प्लेसेन्टा को दहन्क ले तो सेसेरिएन डिलेवरी होगी आपका प्लेसेन्टा निचे है तो आपको पूरे प्रेग्नेसी में सेक्स नही करना चाहिए ऑर ना ही भारी सामान उठा सकती है बेड रेस्ट करें अकेले ना रहें कोई ना कोई अपने पास रखें ताकि ज़रूरत पड़ने पर तुरन्त डॉक्टर के पास जा सकें थोड़ा भि खुन जाए जाए या दर्द हो तो डॉक्टर के पास जाए डॉक्टर के कहने से 35 से 36 हफ़्ते में ही आपरेशन करवा लें ताकि आपका बेबी स्वस्थ आ जाए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: प्लेसंट प्रेविया kya hai
उत्तर: हेलो डियर plecenta priviaa matlb प्लेसेंटा नीचे की तरफ होने से प्रेगनेंसी में बेबी के लिए बहुत रिस्क है रहता है कि इससे ब्लडिंग की प्रॉब्लम हो जाती है इसलिए जब गर्भनाल नीचे की ओर हो तो कुछ सावधानियां रख से बच सकते हैं जैसे कि प्लेसेंटा नीचे होने पर बेड रेस्ट करना चाहिए किसी भी तरह का कोई काम नहीं करना चाहिए इंटरकोर्स बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए प्रेगनेंसी के शुरुआत में यदि प्लेसेंटा नीचे है तो इसकी स्थिति बदलने का चांस रहता है और बच्चे के वजन के साथ साथ यह ऊपर की ओर चले जाते हैं 9 महीनों तक भी यदि प्लेसेंटा नीचे है तो ऑपरेशन से डिलीवरी करवानी चाहिए और ड्यू डेट से पहले ही डिलीवरी करवा लेनी चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: माम मज़े प्लेसंट प्रेविया है क्या kru
उत्तर: आप बिल्कुल भी घबराए नहीं और डॉक्टर के निर्देशों का ध्यान से पालन कीजिए.. Placenta एक ऐसा ऑर्गन है जो बच्चे को माता से ब्लड सप्लाई करता है और न्यूट्रीशन पहुंचाता है। इसकी पोजीशन यूट्रस में कहीं भी हो सकती है यह तो ऊपर छतरी के सामान रहेगा या आगे या पीछे या फिर कभी कभी किसी किसी केस में yeh नीचे की ओर भी अटैच हो जाता है। लो प्लेसेंटा होने की स्थिति में ज्यादातर माताओं को आराम करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि बच्चा जैसे-जैसे ग्रोथ करता है, उसका दबाव प्लेसेंटा पर पड़ता है और आपको कभी भी ब्लीडिंग स्पोटिंग होने की संभावना रहती है। इसलिए हमेशा माताओं को आराम करने की सलाह दी जाती है । इस केस में माताओं को ज्यादा झुक कर और ज्यादा देर खड़े रहकर काम नहीं करना चाहिए ज्यादा exertion वाले एक्सरसाइज और योगा और वाकिंग भी नहीं करनी चाहिए। लो प्लेसेंटा ज्यादातर स्कैन के द्वारा शुरुआती महीनों में ही पता चल जाता है यह प्रेगनेंसी के अंत अंत तक ठीक भी हो जाता है। क्योंकि हमारी यूटरस का साइज़ बढ़ता है और प्लेसेंटा नीचे से साइड की तरफ शिफ्ट हो जाता है। इसमें घबराने की कोई बात नहीं है इसमें आपको हमेशा नॉर्मल डिलीवरी अवॉइड करने की सलाह देते हैं क्यूकी प्लेसेंटा सर्विक्स को कवर करके रखता है और नॉर्मल डिलीवरी के केस में बच्चा पहले निकलना चाहिए उसके बाद प्लेसेंटा लेकिन लो प्लेसेंटा के केस में प्लेसेंटा पहले होता है और बच्चा बाद में इसलिए हमेशा सी सेक्शन करने की सलाह दी जाती है। डॉ इस समय पर इंटर कोर्स करने से भी हमेशा मना करते हैं पूरी प्रेगनेंसी में आपको अपना खास ध्यान रखना पड़ता है अब ज्यादा हैवी सामान भी नहीं उठाई है आराम कीजिए और पौष्टिक आहार लेते रहिए हल्की वॉक कर सकते हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मुझे लो लाइंग प्लेसंट प्रेविया है क्या मे 9 मंथ मे फ्लाइट ट्रैवल कर सकती हु ?
उत्तर: हेलो डियर आपका प्लेसेंटा नीचे है और आपके प्रेगनेंसी का नौवा महीना चल रहा है तो आपको बिल्कुल भी सफर नहीं करना चाहिए किसी भी तरीके सेप्लेसेन्टा निचे है तो आपको पूरे प्रेग्नेसी में सेक्स नही करना चाहिए ऑर ना ही भारी सामान उठा सकती है बेड रेस्ट करें अकेले ना रहें कोई ना कोई अपने पास रखें ताकि ज़रूरत पड़ने पर तुरन्त डॉक्टर के पास जा सकें थोड़ा भि खुन जाए जाए या दर्द हो तो डॉक्टर के पास जाए डॉक्टर के कहने से 35 से 36 हफ़्ते में ही आपरेशन करवा लें ताकि आपका बेबी स्वस्थ आ जाए
»सभी उत्तरों को पढ़ें