18 महीने का बच्चा

Question: क्या मिल्क के शत हनी देने से कोई नुकसान होता है

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर हनी और मिल्क साथ में कि या जा सकता है नीले बहुत ज्यादा एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज हो ती है जो कि दूध के साथ मिक्स करो तो अच्छी रहती है और बैक्टीरिया से लड़ती हैं , आपको क्या अपने बच्चे को देना है अगर हां तो थोड़ा कम क्वांटिटी में दीजिएगा और शुरु में देखेगा उसको कोई भी रिएक्शन तो नहीं हो रहा है क्योंकि बच्चा भी छोटा है
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मिल्क के शत बादाम खाने के क्या फ़येदे है
उत्तर: मिल्क के साथ अगर आप बादाम खाते हैं तो आपको बहुत अधिक मात्रा में पौष्टिक तत्व मिलते हैं। जो कि गर्भावस्था के दौरान बहुत ही आवश्यक होता है| दूध से आपको भरपूर मात्रा में कैल्शियम मिलता है जो कि आपके बच्चे की हड्डी को मजबूत बनाने के लिए सहायक होता है| उसी प्रकार बदाम में भी भरपूर मात्रा में कैल्शियम विटामिन और मिनरल्स होने की वजह से या आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है| बदाम को ज्यादातर भीगा के खाने में फायदा होता है क्यों किया शरीर को बहुत गर्मी पहुंचाने की वजह से इसेbhiga कर खाया जाता है बदाम खाने से गर्भवती महिला और बच्चा दोनों दोनों को इंफेक्शन से बचा कर रखता है इसे किसी प्रकार की एलर्जी नहीं होती अगर आपको कब्ज की परेशानी है तो आप बादाम खाइए बदाम में फाइबर अधिक मात्रा में पाए जाने की वजह से यह कब्ज से राहत दिलाता है गर्भावस्था के समय यहां प्री एक्लेंपसिया का जोखिम को भी कम करता है बादाम में विटामिन और मिनरल्स जैसे कैल्शियम मैग्नीशियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड शामिल होते हैं इसके लिए इनको भी गाकर खाना चाहिए क्योंकि बादाम का छिलका उसमें टैनिन होता है जो पोषक तत्वों की अवशोषण को रोक देता है इसलिए हमें बादाम को भिगोकर खाना चाहिए
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या फॉर्म्यूला मिल्क के कोई नुकसान है क्या नवजात शिशुओं के लिए सेव hai
उत्तर: हेलो सबसे पहले मैं यह कहना चाहूँगी कि बच्चों के लिए फार्मूला दूध या पाउडर दूध, एक तरह से माँ के दूध का ही दूसरा विकल्प है। कुछ माताएँ आपने शिशु को सिर्फ़ फ़ॉर्मूला दूध देना ही पसंद करती हैं, कुछ स्तनपान और कुछ माताएँ मिश्रित आहार देना पसंद करती है यानि कि माँ का दूध और फ़ॉर्मूला दूध दोनों ही। इस श्रृंखला  के माध्यम से मैं आपको फार्मूला दूध के बारे मे विस्तृत जानकारी देने का प्रयास करुँगी। इसमे कोई संदेह नही है कि माँ के दूध की फ़ॉर्मूला दूध से कोई तुलना की जा सकती। परंतु फिर भी कई बार ऐसे हालात बन जाते है जहाँ माता को फ़ॉर्मूला फीड पर निर्भर होना पड़ता है क्योंकि दूसरा कोई विकल्प उपलब्ध नहीं होता है। अगर इस फ़ैसले से बच्चे के स्वस्थ मे कोई दुष्प्रभाव नही पड़ रहा हो, तो इसको जारी रखने मे कोई समस्या नही। चलिए, फ़ॉर्मूला फीड पर वापिस आते है। यह मूल रूप से पाउडर के रूप मे गाय का दूध ही होता है जिसे इस तरह से बनाया जाता है कि यह शिशुओं के आहार के रूप मे एकदम सही हो। आज तक, कई ब्रांडों ने फार्मूला दूध दुनिया भर मे उपलब्ध कराया है। आपके बच्चे के बच्चे के शरीर के अनुरूप कौन सा फ़ॉर्मूला फीड सही बैठेगा, इसके लिए आपको विभिन्न फ़ॉर्मूला फीड प्रयोग करके देखने पड़ सकते हैं। हालांकि सभी फॉर्मूला फीड मे एक ही तरह की सामग्री का इस्तेमाल होता है, फिर भी आपका बाल रोग विशेषज्ञ ही आपके बच्चे के शारीरिक विकास के आधार पर आपके शिशु को एक सही फार्मूला की सलाह दे सकता है। उदाहरण के लिए, ज्यादातर दूध आधारित फार्मूले जैसे   जैसे सिमिलैक एडवांस 1 और 2, एनफामिल ए + आदि सभी गाय के दूध पर आधारित होते हैं और उन बच्चों को दिया जाता है जो जन्म के समय सामान्य वजन वाले, स्वस्थ, और पूर्ण अवधि के होते हैं। कुछ फार्मूला फीड सोया आधारित होते है जैसे सिमिलैक इसोमिल, जिसमे कोई दूध से युक्त सामग्री नहीं होती है और यह उन बच्चो को दिया जाता है जिनको दूध या लैक्टोज से किसी तरह की एलर्जी या दस्त की शिकायत है। सिमिलैक्स नेओशेओर फार्मूला फीड का एक अतिरिक्त उदाहरण है जो समय से पहले यानि कि 37वें सप्ताह से पहले पैदा हुए बच्चों के लिए बढ़िया विकल्प है। बाज़ार मे तो कई सारे फार्मूला फीड के विकल्प उपलब्ध हैं, परन्तु उनमे से किसी एक को भी चुनने से पहले किसी बाल रोग विशेषज्ञ से परामर्श जरूर कर ले।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेग्नेन्सी में पोर्न देख्ने से कोई नुकसान होता है क्या
उत्तर: हेलों आप 10 वीक प्रेगनेट है आप पोर्न देख सकती है लेकिन आप ये सब ना दिखें आप जो भी देखेगी सुनेगी आपका मन वैसे ही होगा और ऐसे समय में अच्छी बातें padhni चाहिए सुननी चाहिए और देखनी चाहिए ताकि बच्चे पर उसका सही प्रभाव पड़े इस समय इसी लिए गर्भ संस्कार को महत्व दिया जाता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें