8 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: क्या फिश मछली खा सकते हैं,??

1 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर,, प्रेगनेंसी के दौरान आप फिश ले सकते हैं यह baby के vikasमें यह बहुत ही अच्छा है |इससे बेबी का शारीरिक व मानसिक विकास बढ़ता है मछली में ओमेगा-3 पाया जाता है जो कि बेबी के मानसिक विकास को बढ़ाने के साथ-साथ प्रेगनेंसी में होने वाले उदासी ,मानसिक तनाव ,मानसिक रूप से परेशानी ,थकावट आदि समस्याओं को दूर करने में बहुत ही महत्वपूर्ण है प्रेग्नेंसी में मछली के प्रयोग से baby में विकार की स्थिति कम होतीhai.. फिश में विटामिन की प्रचुर मात्रा में होता है जो कि बेबी के स्किन के निर्माण में बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होता है|
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हेलो डॉक्टर क्या मछली खा सकते हैं
उत्तर: हेलो डियर हाँ आप खा सकती है लेकिन ध्यान रखें कि अधपकी या कच्ची मछली ना खायें उसे आचछि तरीके से साफ़ करकें और पका करकें ही खायें और इसका उचित मात्रा में ही सेवन करे ।और ताज़ा मछली ही खाएं ।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: हेलो मैम क्या में मछली खा सकते हैं
उत्तर: हेलो डियर आप प्रेग्नेन्सी में फिश खा सकती है मगर 3 महीने के बाद ही खाएँ फिश में आप कुछ फिश ही खाए जैस की सल्मन ट्राut tuena इन्ही फिश का सेवन करें ऑर फिश में ओमेगा 3 फ़ेटि ऍसिड भरपूर मात्रा में होता है ऑर फिश में भूत सारे गुण होते जो प्रेग्नेन्सी में माँ ऑर बच्चे के लिए लाभदायक होते है मगर फिश को जादा मात्रा में ना खाएँ सप्ताह में 1 या 2 दिन बस खाएँ फिश खाने से आँखों की रोशनी भि तेज होटी है ऑर यह आपके बेबी के दीमाक के विकास के लिए भि बहुत अच्छा होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या प्रेगनेंसी में prawn और फिश खा सकते हैं
उत्तर: हैलो डियर--गर्भावस्था में मछली और प्रौन खाना मां और बच्चे दोनों के ही लिए फायदेमंद होता है. गर्भावस्था में महिला को मछलियों और प्रौन का सेवन करना चाहिए. गर्भावस्था में मछली खाने से होने वाली संतान को सांस से जुड़ी समस्याएं होने का खतरा कम हो जाता है. इसके अलावा मां द्वारा गर्भावस्था में मछली खाने से अस्थमा होने का खतरा भी कम हो जाता है.
»सभी उत्तरों को पढ़ें