7 weeks pregnant mother

क्या आवले का सुखा मुरब्बा खा सकते है ऑर मिल्क कितना पीना chahiye

सवाल
हेलो हा आप आवले का मुरब्बा खा सकती है आवले में विटामिन सी होता है और यह आयरन का स्‍तर शरीर में सही बनाता है। अगर गर्भावस्था में आंवले का सेवन किया जाए तो इस दौरान शरीर को जरूरत के मुताबिक आयरन कंज्यूम करने को मिलता है। इससे हिमोग्लोबिन का लेवल भी मेंटेन रहता है।  गर्भावस्था के आखिरी तीन महिनों में हाथों और पैरों में आने वाली सूजन में आंवले में पाए जाने वाले गुणों के कारण बहुत हद तक राहत मिलती है। इसके सेवन से खून साफ होता है और साथ ही बच्‍चे तक खून और ऑक्‍स‍िजन आराम से पहुंचता है। आंवला शरीर की इम्‍यूनिटी दुरुस्‍त करता है। आंवले में विटामिन सी से बेहतर सुरक्षा मिलती है। द‍िन में एक कच्‍चा आंवला ही शरीर को सुरक्षा देने के लिए पर्याप्‍त है।  फाइबर्स से भरपूर होने की वजह से आंवला कब्ज में आराम देता पहुंचाता है।इसके अलावा प्रेगनेंसी की पहले तीन महीनों में मॉर्निंग सिकनेस में भी आंवला आराम देता है। आप मिल्क एक दिन में दो बार,ek ek glass पी सकती है और आप khane में मिल्क प्रॉडक्ट जैसे दही पनीर का सेवन कर सकती है
मेरे लास्ट टाइम पिरियड july को हुए थे मेरे प्रेगनेंसी को कितना टाइम हो chuka hai
thanks
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: आवले खा सकते है क्या प्रेगनेंसी में
उत्तर: हेलो डियर आप प्रेग्नेंसी में आंवल बेफिक्र होकर प्रयोग कर सकते हैं का आंवले बहुत ही गुणकारी होता है प्रेगनेंसी के दौरान बेबी के सारे मानसिक विकास में आंवला एक बहुत ही अच्छा गुणकारी फल है आंवले के प्रयोग से baby के साए के साथ आवश्यक तत्व जैसे प्राप्त होते हैं विटामिन सी से कब्ज से संबंधित समस्त समस्याएं दूर होती हैं यह आपके पाचन शक्ति को बढ़ाता है एसिडिटी जलन आदि को कम करता है विटामिन सी के द्वारा बॉडी में रक्त की को शुद्ध करता है और शुद्ध रक्त बेबी तक पहुंचाने में आंवले का प्रयोग बहुत ही महत्वपूर्ण होता है शरीर में आयरन का ग्रहण विटामिन सी के माध्यम से अधिक तेजी से होने लगता ै यह HBकी वृद्धि को बढ़ावा देता है aavle में उपस्थित विटामिन सी आपके ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखता hai आंवले का प्रयोग प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में जो fat hai उसे काम करता है शरीर हल्का रहता है अतिरिक्त वजन नहीं बढ़ता है आंवले में उपस्थित विटामिन सी प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है aavle के प्रयोग से प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में जो सूजन आ जाती है वह भी कम होने लगता है आंवला का प्रयोग प्रेगनेंसी में थकान चिड़चिड़ापन जैसी समस्याओं को भी दूर करता है आप एक ही दिन में बहुत सारे आले ना खाएं और आपकी बॉडी को नुकसान कर सकता है अगर कच्चा आंवला खाना चाहती हैं तो सुबह शाम एक-एक आंवला ले सकती हैं अगर आप मुरब्बा खा रहे हैं तो दो-दो आंवले का मुरब्बा le skti hai टेक केयर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: केसर कितना खा सकते है ऑर क्या नाइन मंथ मि खा सकते है
उत्तर: गर्भावस्था के दौरान आपको केसर वाला दूध जरूर पीना चाहिए इससे गर्भावस्था में होने वाली घबराहट कम हो जाती है केसर का दूध पीने से बच्चे का रंग साफ होता है इससे फायदा होता है आपकी नजर कभी भी कमजोर नहीं होगी डाइजेशन को मजबूत बनाते हैं नार्मल डिलीवरी के चांस बढ़ जाते हैं ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है और मसल्स भी स्ट्रांग रेट बनती है लेकिन इसको संतुलित मात्रा में ही लेना चाहिए यह ध्यान रखने वाली बात है इसका अधिक सेवन करने से गर्भवती महिला और उसके बच्चे को नुकसान भी हो सकता है प्रेगनेंसी के टाइम पर केसर वाला दूध पांचवे महीने से ही लेना चाहिए एक गिलास में केसर के चार रेशे ही काफी 1 दिन में
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: केक खा सकते है क्या और कितना खा सकते है
उत्तर: हेलो डियर आप केक बिल्कुल खा सकती हैं मगर 2 से 3 पीस hi आप cake खाएं क्योंकि केक मैदे का बना होता है और उसमे शुगर भी होता है प्रेगनेंसी में आपको मैदा और शुगर थोड़ा अवॉइड करना चाहिए आप खाएं मगर लिमिट में जिससे आपके और आपके बेबी को कोई भी प्रॉब्लम ना हो
»सभी उत्तरों को पढ़ें