14 weeks pregnant mother

केसर दुध के साथ रोज़ लेना चाहिए या बीच बीच में और किस प्रकार से इसे लेना है

सवाल
hello dear केसर का उपयोग अपने प्रेगनेंसी की दूसरी तिमाही से कर सकते हैं roj इसके काई फ़ायदे होते है प्रेग्नेन्सी में जैस की इसके उपयोग से बेबी गोरा होता है ऑर प्रेगनेट लेडीज का बॉडी स्वस्थ रह्ता है आँखों की प्रॉब्लम भि दूर होती है जैस की नीन्द पुरी ना होने के वज्ह से आँखों में जो तनाव दिखता है लाल ऑर सुजन आ जाती है वो सब प्रॉब्लम नही होती केसर के उपयोग से प्रेग्नेन्सी में पाचन क्रिया की बहुत प्रॉब्लम होती है जैसे की पेट में दर्द होना खाना ना पचना गेस की प्रॉब्लम इन सब में आराम मिलता है इसके सेवन से बी.पी. भि नॉर्मल रहता है आप एक दिन में दूध के साथ 4 केसर के रेसे ले सकती है इस्से जादा दिन भर में उपयोग ना करें
kesar garam dudh me lena chaiye or kam lena chaiye jyada nhi sirf 4 5 kesar hi dudh me daal ke piye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: केसर दुध के साथ लेने का सही तरीका क्या है गरम दुध में लेना है या ठण्डे दुध के साथ केसर घुलने भी तो चाहिये तभी असर करेगा ना या ऐसी 4 रेशे डाल के पी लेना है
उत्तर: हेलो डियर--केसर के फायदे अनेक हैं ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है पाचन तंत्र मजबुत बनाता है बच्चे की त्वचा सुंदर होता है।और गर्भवती महिलाएं 6वें महीने के बाद केसर लेना शुरु कर सकती है। गर्भावस्था केसर के सेवन का उपयुक्त समय है  इसको सुबह शाम गर्म दूध के साथ लिया जाना चाहिये। एक ग्लास दूध में एक चुटकी केसर काफ़ी होती है।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: कृपया फॉलिक ऍसिड के बारे में बताये ... इसे कब और कैसे किस से लेना चाहिए
उत्तर: फोलिक एसिड आपको 1 ट्रिमस्टर में ही चालू करदेना चहिये। फ़ोलिक एसिड का होने वाले बच्चे की ग्रोथ में बहुत बड़ा योगदान रहता है। फोलिक एसिड एक प्रकार का विटामिन ‘बी’ (ब्९) है। इसे फ्लोट भी कहा जाता है। यह ब्रेन,नर्वस सिस्टम और रीढ़ की हड्डी में तरल पदार्थ के लिए बहुत जरूरी होता है। प्रेगनेंसी में फोलिक एसिड डेली लेने से बेबी में होने वाले बी बिरथ प्रोब्लेम्स जैसे स्पिना बिफिडा की समस्या कम हो जाती है। यह एक बीमारी है जिससे बच्चे कि पीठ में ठीक से जोड़ विकसित नहीं हो पाता, जिसकी वजह से विकलांगता पैदा होने का खतरा बना रहता है। इसके साथ ही मां और बच्चे दोनों का एनिमिया रोग से भी बच जाते है। प्रेगनेंसी में फोलिक एसिड प्रेग्नेंट वुमन और उसके बच्चे के लिए बहुत जरूरी है। डॉक्‍टर भी इस समय फोलिक एसिड के सप्लीमेंट लेने की सलाह देते है। यह पोषक तत्वों को ठीक से अवशोषित करने के साथ-साथ शरीर में हर तरफ ऑक्सीजन पहुंचाने वाले रेड सेल्स को बनने के लिए जरूरी है। इसको लेने से मिस्सकरृगे का खतरा भी कम हो जाता है।  folic acit ke liye ye khaye. साबुत अनाज में भी फोलिक एसिड अच्छा रहता है।नाश्ते में दलिया और होल ग्रेन ब्रैड लें। आप चाहें तो होल वीट पास्ता भी खा सकते है। ओट्स में फाइबर,विटामिन बी,आयरन और कई खनिज पाए जाते हैं। दिन में एक कटोरी ओट्स जरूर खै। फलों में भी काफी मात्रा में फोलिक एसिड मिलता है।दिन में एक गिलास संतरे का जूस पीएं। अंगूर में विटामिन ए, फोलेट, पोटैशियम, फास्‍फोरस, मैग्‍नीशियम और सोडियम होता है। हरी सब्जियां में आयरन, एंटीऑक्सीडेंट और फोलिक एसिड से भरपूर ये सब्जियां प्रजनन अंगों के लिए फायदेमंद होती है। रोजाना पालक या मूली के पत्तों कगायी। अपनी डाइट में मकई, ब्रोकली,शलगम,सलाद, सरसों का साग और भिंडी खै। अंडा खाना बहुत अच्छा होता है। प्रोटीन युक्त अंडे खाने से मां और बच्चा दोनों स्वस्थ रहते है। इसमें मौजूद कॉलिन से शिशु के मस्तिष्क का विकास होता है। अंकुरित में विटामिन सी के अलावा फाइबर, विटामिन बी-१ और फॉलिक एसिड भी पाया जाता है।  ब्रोकली ऐस्पैरागस खट्टे फल हरी पत्तों वाली सब्जियां ओकरा फूलगोभी भुट्टा गाजर
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेगनेन्सी में दूध के साथ केसर ले सकते है और कब से लेना चाहिये
उत्तर: जी हा आप केसर ले सकती है प्रेगनेन्सी मे केसर का इस्तेमाल हम 4 मंथ से डिलिवरी तक कर सकते है , ध्यान रहे कि केसर की एक या दो पंखुड़ीयों का सेवन करना चाहिए, अधिक मात्रा में केसर की पंखुड़ियों का सेवन नहीं करना चाहिए. केसर दूध मे डाल कर दूध को अच्छी तरह उबाल ले , दूध का कलर बदल जाएगा , इज दूध को ठण्डा कर के सुबह या रात को आप पीये
»सभी उत्तरों को पढ़ें