8 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: प्रेग्नेन्सी की शुरुआत से लेकर नऔ महीने तक सेक्स कब करना चाहिए और कब नही करना चाहिए

2 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर पहले के 3 महीने और अंतिम के 3 महीने बहुत नाजुक होते है। गर्भ में पल रहे बच्चे को किसी प्रकार का कॉम्प्लिकेशन हो तोह सेक्स करने से बचना चहिये नार्मल प्रेग्नेंसी में 4 महीने के बाद आप कभी कभी संबंभ बना सकते है पर ध्यान रखिये आपको कोई परेशानी जैसे ब्लीडिंग या पहले गर्भपात न हुआ हो, सेक्स के बाद आप पास का एरिया एक साफ तोलिये या टिश्यू पेपर से साफ करे। पर सेक्स करने के पहले ये चेक जरूर कर लीजिए कि कोई कॉम्प्लिकेशन तो नही है, और इसके लिए डॉक्टर की सलाह लीजये।
Answer: हेलो डियर आपको प्रेगनेंसी में पहले तिमाही में बिल्कुल भी सेक्स नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसे में आप के बेबी के bhurna बनने की प्रोसेस होता है इसलिए ऐसे में आप संभोग करने से बचें प्रेगनेंसी की दूसरी तिमाही में संबंध बना सकती हैं इसमें सम्बन्ध बनाना बिलकुल सेफ़ है लेकिन आपको ऐसे में किसी भी तरह की कोई भी कॉम्प्लिकेशन नही होना चाहिये !
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: प्रेग्नेन्सी में सेक्स कब तक नही करना चाहिए
उत्तर: हेलो डियर वैसे प्रेगनेन्सी मे sex करना बिल्कुल सेफ़ है ।लेकीन शुरु के तीन्ं महिने sex करने से बचना चाहिए और अगर आपकी प्रेग्नंसी मे कौइ भी प्रॉब्लम नही है तो आप परेशान ना हो। आप 4 मंथ से 8 मंथ तक sex कर सकती है बस कुछ बातों का ध्यान रखिए । sex के दौरान पेट पर ज्यादा जोर ना पदे और आप sex उतनी देर ही करे जितनी देर आपकी बॉडी सहन कर सके।अगर आपकौ sex करते हुए किसी प्रकार का कौइ दर्द ,थकान या फिर कौइ परेशानी हो तो आप sex बिल्कुल भी ना करे ।और आपने डॉक्टर से सलाह लीजिए।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: अक से लेकर नऔ महीने तक की कहानी क्या खाना चाहिए kaise
उत्तर: जब आप प्रेगनेंट होती हैं तब यह बहुत जरूरी है कि आप अपना आहार पौष्टिक है. इससे आपको और आपके होने वाले बच्चे को पौष्टिक तत्व मिलेंगे. प्रेग्नेंसी में कुछ अधिक कैलोरी की जरूरत होती है. प्रेगनेंसी में सही आहार का मतलब है -आप क्या खा रही हैं ?ना कि कितना खा रही हैं? जंक फूड का सेवन ज्यादा ना करें. isme कैलोरी ज्यादा है पोष्टिक तत्व कम या ना के बराबर होते हैं. फोलिक एसिड आपको 1 ट्रिमस्टर में ही चालू करदेना चहिये। फ़ोलिक एसिड का होने वाले बच्चे की ग्रोथ में बहुत बड़ा योगदान रहता है। फ़ोलिक एसिड विटामिन है ।विटमिन B 9। ये आपको खाने पिने में फॉलेट नाम से मिलेगा । बाबी के इस्पीनलकार्ड के चारो और पॉलिब पेरत को सही तरीके से बंद करता है।वाहा गप नहीं आने देता। मा के लिए भी बहुत जरुरी है ।विटमिन B 12 के साथ मिलकर हेअल्थी रेड सेल्स बाँटा है। folic acit ke liye ye khaye. ब्रोकली ऐस्पैरागस खट्टे फल हरी पत्तों वाली सब्जियां ओकरा फूलगोभी भुट्टा गाजर 1) दूध और डेयरी के ले सकती हैं. मलाई वाला दूध दही छाछ घर का पनीर इन सब में कैल्शियम प्रोटीन और विटामिन बी12 बहुत होता है. 2) सभी अनाज ,दालें . इन सब में प्रोटीन बहुत अच्छा होता है. 3) पेय पदार्थों में आप पानी bahut piyen.खास करके आप साफ पानी joki फ़िल्टर किया हुआ. ताजे फलों का रस ले. डिब्बाबंद juis nahi le. इसमें शक्कर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है. 4) वसा और तेल . वेजिटेबल ऑयल का वसा एक अच्छा स्रोत है क्योंकि इसमें संतृप्त वसा अधिक होता है. इन सभी चीजों के साथ आप डॉक्टर की सलाह मानें .जो भी टेस्ट किए हैं दिए गए हैं उन्हें करवाएं समय पर. दवाइयां समय पर ले और नींद पूरी. खाना जो भी खाएं अच्छे से चबाकर खाएं. प्रेगनेंसी के समय मिल्क प्रोडक्ट calcium और प्रोटीन बहुत जरुरी होता है। डेयरी प्रोडक्ट प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए सबसे बेहतर होता है। जैसे अंडा, चीज, दूध, दही और पनीर मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद होता है। कैल्शियम भी पर्याप्त मात्रा में होती है जो फीटस के बोन टिशू के विकास के लिए आवश्यक होता है। प्रोटीन की मात्रा काम होने से बच्चे की ग्रोथ में बहुत अंतर आता है। प्रोटीन जरूरी पौशाक तत्वों में से है। बच्चे का विकास और एम्निओटिक टिशू का कार्य प्रोटीन पर निर्भर करता है। गर्भावस्था के दौरान प्रोटीन की kaam मात्रा बच्चे के sahi विकास में बाधा पहुंचा सकती है और इससे शिशु का वजन भी कम हो सकता है। यह बच्चे के बढ़ते मस्तिष्क पर नकारात्मक प्रभाव भी डाल सकता है।  बस एक मुट्ठी नट्स प्रोटीन की अपनी दैनिक आवश्यकताओं को पूरा कर सकता है। नट्स जैसे बादाम, मूंगफली, काजू, पिस्ता, अखरोट और नारियल में उच्च मात्रा में प्रोटीन की मात्रा होती है जो बच्चे के विकास के लिए जरूरी होता है। बीज जैसे कद्दू, तिल और सूरजमुखी में भी प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में होती है।  इनमें से कई ऐसे हैं जिनमें प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती है जैसे- मूंग, काले और फवा बिन्स, मसूर, मटर और चना. ओट्स में प्रोटीन बहुत उच्च मात्रा में पाई जाती है .
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या प्रेग्नेन्सी में शुरुआत के 3 महीने सेक्स नही करना चाहिए यह असुरक्षित होता है
उत्तर: हेलो डियर आप बिल्कुल सही बोल रहे हैं प्रेगनेंसी की शुरुआत यानी एक से 3 महीने तक आप सेक्स ना करो तो यह बच्चे के लिए सुरक्षित रहता है| क्योंकि इस समय bachhe बनते रहता है और अगर उसमें किसी भी प्रकार का दबाव पड़े तो हो सकता है बच्चे को परेशानी हो लेकिन 3 महीने के बाद बच्चे के आसपास एक थैली बनना चालू हो जाता है जिसमें पानी भरा होता है जिससे बच्चे को कोई नुकसान नहीं होता क्योंकि यहां बच्चे को पूरी तरह से protect करता है bahari दबाव ya pressure से ,इसलिए प्रेगनेंसी के शुरुआत में नहीं करना चाहिए और प्रेगनेंसी के लास्ट 9 महीने में नहीं करना चाहिए बीच में आप कर सकती हैं| लास्ट 9 महीने में इसलिए क्योंकि बच्चा नीचे की और आता है और अगर किसी प्रकार का दबाव पड़ेगा to हो सकता है बच्चे को परेशानी हो इसलिए लास्ट 9 महीने में भी असुरक्षित माना जाता है|
»सभी उत्तरों को पढ़ें