14 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: अल्ट्रासाउन्ड कितने बार होता है पग्रनसी के दोउरन

3 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर ​नियमित होने वाले अल्ट्रासाउंड में आमतौर पर निम्नांकित स्कैन शामिल होते हैं: छह और नौ सप्ताह के बीच डेटिंड व वायबिलिटी scan 11 और 13 सप्ताह के बीच न्यूकल ट्रांसलुसेंसी स्कैन, जिसे कई बार अर्ली मॉर्फोलॉजी स्कैन भी कहा जाता है। 18 और 20 सप्ताह के बीच एनॉमली स्कैन (अल्ट्रासाउंड लेवल II) भ्रूण के विकास (ग्रोथ स्कैन) और उसकी सेहत (फीटल वेलबींग) के बारे में जानने के लिए 28 और 32 सप्ताह के बीच स्कैन 36 और 40 सताह के बीच ग्रोथ स्कैन और कलर डॉप्लर स्कैन क्या चाहता है बाकी हर किसी की प्रेगनेंसी अलग होती है किसी किसी को ज्यादा बार भी अल्ट्रासाउंड करवाना पड़ जाता है इसलिए डियर आप के डॉक्टर आपको जब भी अल्ट्रासाउंड के लिए बुलाए आप जरूर करवाएं
Answer: हेलो डिअर, आप अगर प्रेग्नेंसीय में स्वस्थ है तो सोनोग्राफी 3 से 4 बार करवानी चाहिए ये आपकी कंडीशन पर भी निर्भर करती है वैसे प्रेग्नेंसीय में प्रथम तिमाही में एक बार सोनोग्राफी होती है , दूसरी तिमाही मे दूसरी सोनोग्राफी होती है , तीसरी तिमाही में तीसरी सोनोग्राफी करानी चाहिए , ऐसा आपको हर तिमाही में अल्ट्रासाउंड करवाना चाहिये ताकि आपके बेबी की समय समय पर पोजीशन का पता चलता रहे इससे आपके होने वाले बेबी के स्थति का पता लगाया जा सकता है और अंत मे डिलीवरी के समय डॉक्टर बेबी के कंडीशन का पता करने के लिए सोनोग्राफी करते है
Answer: hello पूरी प्रेगनेंसी में अल्ट्रासाउंड दो बार कर आना बहुत जरूरी होता है। पहला अल्ट्रासाउंड पहली ट्रिमेस्टर में कराया जाता है और दूसरा अल्ट्रासाउंड दूसरी ट्रिमेस्टर में कराया जाता है। लेकिन आपने 5 मंथ में पहला अल्ट्रासाउंड कराया है तो अब आपको दूसरा अल्ट्रासाउंड कराने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन आजकल डॉक्टर 4 से 5 बार भी अल्ट्रासाउंड करवाते हैं। अगर प्रेगनेंसी में कोई कॉम्प्लिकेशन नहीं है तो इतने बार अल्ट्रासाउंड कराना सही नहीं होता। एक नार्मल प्रेगनेंसी में दो बार ही अल्ट्रासाउंड करवाना चाहिए
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: अल्ट्रासाउन्ड कितने बार होता है
उत्तर: प्रेगनेंसी में चार अल्ट्रासाउंड होते हैं... पहला 6 week से 9 week के बीच में होता है जिसमें आप बच्चे के दिल की धड़कन भी सुन सकते हैं और इसमें एनटी स्कैन भी किया जाता है दूसरा अल्ट्रासाउंड जिसे anamoly स्कैन लेवल 2 भी कहते हैं 18 वीक से 20 वीक के बीच में होता है.... तीसरा अल्ट्रासाउंड 28 वीक्स से 32 वीक के बीच में होता है इसे ग्रोथ स्कैन भी कहते हैं इसमें featel के बारे में जाने को मिलता है.... चौथा अल्ट्रासाउंड 36 वीक से 40 वीक के बीच में होता है इसमें कलर डॉपलर स्कैन होता है
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: अल्ट्रासाउन्ड कितने बार करवाते हैं ??.. क्या ज़्यादा अल्ट्रासाउन्ड करवाने से बेबी को नुकसान होता है ??
उत्तर: पहला सोनोग्राफी बच्चे की हार्ट बीट और बच्चे की संख्या जानने के लिए 8 से 9 वीक में किया जता है ..फ़िर दूसरा स्कैन NT स्कैन होता है जो 11 से 14 वीक के andar किया जता है . जिसमें बच्चे के गर्दन के पीछे की स्किन के नीचे तरल की मात्रा नाक की हड्डी की मोटाई बच्चे की ग्रोथ . गर्भाशय ये सब चेक करने के लिए किया जाता है... फिर tesara स्कैन 18 से 21week में बच्चे के शारीरिक विकृति या anamoly स्कैन बच्चे के बॉडी पार्ट्स के विकास और विक्रिति और गर्भाशय मे कितना पानी है बच्चे का ग्रोथ यह सब चेक किया जाता है .. फ़िर chwtha स्कैन ग्रोथ स्कैन 28 से 32 वीक के बीच किया जाता है..यह स्कैन बच्चे का ग्रोथ जानने के लिए गर्भाशय का पानी ये सब चेक करने के लिए किया जाता है ..अगर जरुरत पड़ी तो अखिर में एक और स्कैन किया जा सकता है ...सोनोग्राफी से बच्चे को कोई नुकसान नहीं होना चाहिए... अगर आप की ज्यादा सोनोग्राफी करवाई जा रही है तो इसका मतलब है कि जरूर koi baat होगी या सच में आपको सोनोग्राफी की जरूरत होगी तभी डॉक्टर ने यह ad वाइस की है इसके लिए आप घबराइए नहीं और डॉक्टर के निर्देशों का पालन कीजिए । आप डॉक्टर से मिल लीजिए इससे वो आपको स्कैन लिखकर दे देंगे जो आपके वीक के हिसाब से ज़रूरी होगा ...आप परेशान ना हों ..और अपना ध्यान रखे..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: प्रेग्नेन्सी मे कितने बार अल्ट्रासाउन्ड करते है
उत्तर: हेलो अल्ट्रासाउंड में या सोनोग्राफी में बच्चे की हार्टबीट लेंथ वेट और बॉडी में बच्चे की पोजीशन सब पता चलता है और बच्चे की डेवलपमेंट से रिलेटेड सारी जानकारी अल्ट्रासाउंड से मिल जाती है। प्रेगनेंसी के दौरान कम से कम 2 बार अल्ट्रासाउंड कराया जाता है । अल्ट्रासाउंड के समय आप बेबी को देख सकती हैं और उसके हार्टबीट को भी सुन सकती हैं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: क्या बेबी की हार्टबीट के लाइए फर्स्ट अल्ट्रासाउन्ड ज़रूरी होता है ऑर ये अल्ट्रासाउन्ड कितने वीक्स पर होता hai
उत्तर: अल्ट्रासाउंड 6 से 9वें हफ्ते के दौरान कराना, प्रसवपूर्व देखभाल का एक नियमित हिस्सा होता है आपकी गर्भावस्था के बीच के समय में, आमतौर पर गर्भावस्था के 18वें सप्ताह और प्रेग्नेंसी के 22वें सप्ताह के बीच, दूसरा अल्ट्रासाउंड किया जाता है। यह अस्पताल या डॉक्टर के क्लिनिक में सोनोग्राफर द्वारा किया जाता है, जहां उपकरण अधिक नए होते हैं। दूसरी तिमाही का अल्ट्रासाउंड कोई खेल नहीं होता है। यह आपके बच्चे के पूरे स्वास्थ्य और आपकी गर्भावस्था का स्पष्ट चित्र दिखाता है।कभी कभी गर्भवती होने पर अतिरिक्त अल्ट्रासाउंड भी कराने पड़ते हैं यदि उसकी प्रेग्नेंसी उच्च जोखिम पर है तो। यदि आपको गर्भावस्था के दौरान स्पॉटिंग होती है, तो भी डॉक्टर आमतौर पर यह सुनिश्चित करने के लिए अल्ट्रासाउंड करेंगे कि गर्भ में सब अच्छी तरह से है। यदि आप एक से अधिक बच्चों को जन्म देने वाली हैं, तो भी आपको उनके विकास की जानकारी के लिए जल्दी जल्दी अल्ट्रासाउंड कराने होंगे।
»सभी उत्तरों को पढ़ें