27 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: कमर mai दर्द हो रहा hai bahut

3 Answers
सवाल
Answer: प्रेगनेंसी में कमर, पीठ में दर्द होना बहुत ही नॉर्मल बात है ,ज्यादातर महिलाओं में प्रेगनेंसी में कमर दर्द की शिकायत होती ही है कमर में दर्द होने का कारण एक तो हारमोंस में बदलाव होता है दूसरा पेट में बढ़ रहे भार का हो सकता है जिसके कारण मांस पेशियों में खिंचाव होता है और कमर में दर्द हो सकता है कमर, पीठ दर्द को कम करने के लिए आप कोशिश करें कि अपनी बाइ और सोए सीधे पीठ के बल ना सोए घुटनों के बीच में तकिया लगाकर सोने से भी आपको कमर दर्द में आराम मिलेगा अगर आप हाई हील की सैंडल , शूज पहनते हैं तो ना पहने यह भी एक कमर दर्द का कारण हो सकता है साथ ही प्रेगनेंसी में dheele सूती के कपड़े पहनने चाहिए जिससे शरीर में खून का प्रवाह आसानी से हो और हम अनेक तरह के दर्द से बचेगे
Answer: गर्भावस्था में जैसे जैसे आपकी बैली साइज बढ़ती है यह समस्या बढ़ती जाती है मेडिटेशन के जरिए आप अपने कमर दर्द की समस्या से राहत पा सकती है इसके लिए आप किसी शांत जगह पर लेट जाएं और अपने सांस पर अपना ध्यान केंद्रित करें इससे आपके हारमोंस भी नियंत्रित होंगे कमर दर्द से बचने के लिए आप ज्यादा देर तक एक ही अवस्था में ना रहे और ना ही ज्यादा देर तक खड़े रहे दर्द से राहत के लिए हमेशा करवट लेकर पी लो का इस्तेमाल करके सोए जिससे आपको राहत मिलेगी और निंद भी आयेगी।
Answer: थर्ड उलतसोउन्द काब karaye
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: मुझे कमर दर्द बहुत हो रहा हे ऑर हात पेर मै भी दर्द हो रहा hai
उत्तर: hello..pregnancy mei body mei kai tarah k harmonal changes hote hai...jis k karan aap ko bahut se dikkto ka samna bhi karna padta hai...jaisse..pet dard,kamar dard,ulti,ji machalna,thakaan hona..bjukh na lagna..or bhi bahut kuch...kamar k dard k liye aap kuch gharelu tips use kar sakti hai...aap koi bhi bhari saman na utaye...jab bhi baithe kamar k picheek pillo ya kushan laga k hi rakhe...hot bag ka use bhi kar sakti hai...ice pack bhi laga sakti hai...jab bhi bed pe lete to karvat le kar hi lete..orbkamar k piche or peron k niche pillo rakh le...halka phulka exercise bhi kare...pero ko latka kar na rakhe..jayda der khade na rahe. or pero ko garm pani mei duba kar rakhe..din mei 3 se 4 times....halka walk kare..ok..take care
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: mujhe कमर mai bahut दरद हो रहा है बिल्कुल सहन नही हो पा रहा क्या karu
उत्तर: व्यायाम: श्रोणि मांसपेशियों और पेट के व्यायामआपकी पीठ पर पड़ने वाले दबाव को कम कर सकते हैं। अपने हाथों और घुटनों के बल आ जाएं और अपनी पीठ को यथासंभव सपाट रखें। सांस अंदर लें और सांस बाहर छोड़ते समय अपनी श्रोणि मांसपेशियों को अंदर की तरफ भींचे। अपनी नाभि को भी अंदर और ऊपर की ओर खींचे। पांच से 10 सैकंड तक बिना अपनी सांस रोके और बिना अपनी कमर ऐसा करती रहें। व्यायाम के अंत में अपनी मांसपेशियों को थोड़ा आराम दें। बिड़ालासन (कैट स्ट्रेच पोज) भी इसमें फायदेमंद हो सकता है। मालिश: मालिश करने से थकी और पीड़ाग्रस्त मांसपेशियों को आराम मिलता है। एक कुर्सी की पीठ के ऊपर से आगे की ओर झुकें या फिर करवट लेकर लेटें। अपने पति या माँ से पीठ के निचले हिस्से और रीढ़ की हड्डी के साथ-साथ चलने वाली मांसपेशियों पर कोमलतापूर्वक मालिश करने के लिए कहें। एक प्रशिक्षित मालिश थैरेपिस्ट या फिजियोथेरेपिस्ट इसके आगे आपकी मदद कर सकते हैं। सही मुद्रा: अगर आपकी पूँछ-अस्थि (टेलबोन) पर दर्द है, तो सुनिश्चित कीजिए कि आप बैठते समय पसरने से बचें। अपनी पीठ को आगे की ओर उतना झुकाकर बैठें, जितना कि आरामदायक हो। एक कोमल गद्दी या गद्देदार घेर पर बैठने की कोशिश कीजिए। तैराकी: आपके यहां स्थानीय पूल या क्लब में विशेष एक्वानेटल कक्षाओं के आयोजन के बारे में पता करें। ये भी गर्भावस्था के दौरान पीठ व कमर दर्द को कम करने में कारगर हैं। एक्यूपंक्चर: सुनिश्चित करें कि आप किसी ऐसे प्रशिक्षक से एक्यूपंक्चर थैरेपी कराएं, जिन्हें गर्भावस्था में एक्यूपंक्चर के इस्तेमाल का प्रशिक्षण और अनुभव प्राप्त हो। मां के लिए विशेष तकिया: अपने पेट के नीचे पच्चर के आकार का तकिया लगाकर करवट लेकर लेटने से पीठ दर्द कम करने में मदद मिलती है। ताप और पानी: एक गर्म स्नान, एक गर्म पैक या फिर शावर से गर्म पानी का तेज प्रवाह, ये सभी पीठ दर्द कम करने में मदद कर सकते हैं। सहारा देने वाली पट्टी: ये पट्टी पेट की मांसपेशियों और पीठ पर पड़ने वाले आपके शिशु के कुछ वजन को अपने ऊपर ले लेती हैं। अपने लिए सही नाप की पट्टी के बारे में डॉक्टर से पूछें। उचित जूते या सैंडल पहनें: उचित सहारा देने वाले कम ऊंचे और आरामदायक जूते या सैंडल, आपकी पीठ के लिए हितकर हो सकते हैं। ऊंची ऐड़ी के सैंडल या जूते आपकी कमर के निचले हिस्से पर बहुत ज्यादा दबाव डालते हैं। इसकी वजह से वजन बढ़ने पर आपको पीठ दर्द शुरु हो सकता है। आपके शरीर में होने वाले परिवर्तन के कारण आपका गुरुत्वाकर्षण केंद्र भी बदलता है। इसलिए आपको ऊंची ऐड़ी के जूतों में सही तरह से संतुलन बनाने में मुश्किल हो सकती है। टेन्स: पीठ और कमर दर्द में राहत का यह एक सुरक्षित तरीका है। इसका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह और व्यायाम जैसे अन्य उपचारों के साथ ही करना बेहतर रहता है। टेन्स मशीन के इस्तेमाल के बारे में अपनी डॉक्टर से सलाह लें।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: कमर mai बहुत दर्द हो रha hai n क्या kru
उत्तर: हेलो प्रेग्न्सी में होर्मोन चेंजेज और माँ और बच्चे के बढ़ते वेट के कारण गर्भाशय पर दबाव पड़ता है जिसके कारण आसपास के अंग पर भी प्रेशर पड़ता है जैसे कमर पीठ पैर हाथ पेट etc प्रेग्नेन्सी में back में दर्द होना तो समान्य है इसके लिए आप प्रॉपर सपोर्ट लें के बैठे lलंबे टाइम के लिए ना बैठे l रेस्ट करे , धीरे धीरे हलकी हलकी एक्सर्साइज करे l कमर और पैरों मे सरसों के ऑयल से हलकी मालिश भी लें सकती है आपको आराम मिलेगाl आराम करे lआप गरम पानी की बॉटल से सीकाइ भी कर सकती है आपको आराम मिलेगा सोते समय सपोर्ट ले के सोएं और तकिया ना लगायें एक ही postion में ना सोएं करवट बदलते रहे कमर पर कम दबाव पडें, इसके लिए अपने घुटनों के नीचे तकिया लगाकर सोएं, अपने घुटनों के बीच तकिया लगाकर सोने से भी आप कमर दर्द से बच सकते हैं.हेवी saaman ना उठा ये हलकी हलकी एक्सर्साइज करे जिसके कारण आपको बैक पेन में राहत मिलेगी सूर्य के प्रकाश में20 से 25 मिनट बैठे सन रेज से मिलने वाले विटामिन डी आपके बैक पेन और बच्चे के विकास में हेल्पफूल है पानी भरपूर पीये स्ट्रेस ना ले
»सभी उत्तरों को पढ़ें