13 सप्ताह की गर्भवती माँ

Question: एन.टी. स्कैन के 8 वीक बाद फ़िर स्कैन लिखा है तो sab नॉर्मल होगा ?

5 Answers
सवाल
Answer: हेलो डियर , आपको अगर डॉक्टर ने एन.टी. स्कैन करवाने के लिए सजेस्ट किया है तो आपको ऐसे में स्कैन करवाना चाहिये , 11 से 12 वीक मे। इस स्कैन से डॉक्टर ये पता आसानी से पता लगा लेते है कि आपकी प्रेग्नेंसी किस दिन हुई है और आपकी डिलीवरी किस दिन होगी , इस स्कैन से ये भी पता चलता है बेबी कैसा है या ट्विनस तो नही हैं। NT scan की नॉर्मल रेंज 1 से 2.8 mm तक मानी जाती है , nt स्कैन में डाउंस सिंड्रोम के खतरे को चेक करने के लिए इस लिक्विड की मोटाई या लेवल को मापा जाता है यह अल्ट्रासाउंड के जरिये मापा जा सकता है।
Answer: हेलो डियर , आपको अगर डॉक्टर ने एन.टी. स्कैन करवाने के लिए सजेस्ट किया है तो आपको ऐसे में स्कैन करवाना चाहिये , 11 से 12 वीक मे। इस स्कैन से डॉक्टर ये पता आसानी से पता लगा लेते है कि आपकी प्रेग्नेंसी किस दिन हुई है और आपकी डिलीवरी किस दिन होगी , इस स्कैन से ये भी पता चलता है बेबी कैसा है या ट्विनस तो नही हैं। NT scan की नॉर्मल रेंज 1 से 2.8 mm तक मानी जाती है , nt स्कैन में डाउंस सिंड्रोम के खतरे को चेक करने के लिए इस लिक्विड की मोटाई या लेवल को मापा जाता है यह अल्ट्रासाउंड के जरिये मापा जा सकता है।
Answer: हेलो डियर , आपको अगर डॉक्टर ने एन.टी. स्कैन करवाने के लिए सजेस्ट किया है तो आपको ऐसे में स्कैन करवाना चाहिये , 11 से 12 वीक मे। इस स्कैन से डॉक्टर ये पता आसानी से पता लगा लेते है कि आपकी प्रेग्नेंसी किस दिन हुई है और आपकी डिलीवरी किस दिन होगी , इस स्कैन से ये भी पता चलता है बेबी कैसा है या ट्विनस तो नही हैं। NT scan की नॉर्मल रेंज 1 से 2.8 mm तक मानी जाती है , nt स्कैन में डाउंस सिंड्रोम के खतरे को चेक करने के लिए इस लिक्विड की मोटाई या लेवल को मापा जाता है यह अल्ट्रासाउंड के जरिये मापा जा सकता है।
  • avatar
    PD p730 days ago

    Risk estimate nt 1 in 6795 likha hai iska mean bataiye pls..

Answer: हेलो डियर , आपको अगर डॉक्टर ने एन.टी. स्कैन करवाने के लिए सजेस्ट किया है तो आपको ऐसे में स्कैन करवाना चाहिये , 11 से 12 वीक मे। इस स्कैन से डॉक्टर ये पता आसानी से पता लगा लेते है कि आपकी प्रेग्नेंसी किस दिन हुई है और आपकी डिलीवरी किस दिन होगी , इस स्कैन से ये भी पता चलता है बेबी कैसा है या ट्विनस तो नही हैं। NT scan की नॉर्मल रेंज 1 से 2.8 mm तक मानी जाती है , nt स्कैन में डाउंस सिंड्रोम के खतरे को चेक करने के लिए इस लिक्विड की मोटाई या लेवल को मापा जाता है यह अल्ट्रासाउंड के जरिये मापा जा सकता है।
Answer: हेलो डियर , आपको अगर डॉक्टर ने एन.टी. स्कैन करवाने के लिए सजेस्ट किया है तो आपको ऐसे में स्कैन करवाना चाहिये , 11 से 12 वीक मे। इस स्कैन से डॉक्टर ये पता आसानी से पता लगा लेते है कि आपकी प्रेग्नेंसी किस दिन हुई है और आपकी डिलीवरी किस दिन होगी , इस स्कैन से ये भी पता चलता है बेबी कैसा है या ट्विनस तो नही हैं। NT scan की नॉर्मल रेंज 1 से 2.8 mm तक मानी जाती है , nt स्कैन में डाउंस सिंड्रोम के खतरे को चेक करने के लिए इस लिक्विड की मोटाई या लेवल को मापा जाता है यह अल्ट्रासाउंड के जरिये मापा जा सकता है।
समान प्रश्न, उत्तर के साथ
सवाल: हलों माम एन.टी. स्कैन के बाद कॉन्स टेस्ट होता है
उत्तर: पहला सोनोग्राफी बच्चे की हार्ट बीट और बच्चे की संख्या जानने के लिए 8 से 9 वीक में किया जता है ..फ़िर दूसरा स्कैन NT स्कैन होता है जो 11 से 14 वीक के andar किया जता है . जिसमें बच्चे के गर्दन के पीछे की स्किन के नीचे तरल की मात्रा नाक की हड्डी की मोटाई बच्चे की ग्रोथ . गर्भाशय ये सब चेक करने के लिए किया जाता है... फिर tesara स्कैन 18 से 21week में बच्चे के शारीरिक विकृति या anamoly स्कैन बच्चे के बॉडी पार्ट्स के विकास और विक्रिति और गर्भाशय मे कितना पानी है बच्चे का ग्रोथ यह सब चेक किया जाता है .. फ़िर chwtha स्कैन ग्रोथ स्कैन 28 से 32 वीक के बीच किया जाता है..यह स्कैन बच्चे का ग्रोथ जानने के लिए गर्भाशय का पानी ये सब चेक करने के लिए किया जाता है ..अगर जरुरत पड़ी तो अखिर में एक और स्कैन किया जा सकता है ... आप डॉक्टर से मिल लीजिए इससे वो आपको स्कैन लिखकर दे देंगे जो आपके वीक के हिसाब से ज़रूरी होगा ...आप परेशान ना हों ..और अपना ध्यान रखे..
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: मैं एन.टी. स्कैन नही kara पायी पर मेरा anomaly स्कैन नॉर्मल है तो क्या मेरा बेबी बिल्कुल नॉर्मल होगा
उत्तर: हेलो डियर प्रेगनेंसी के दौरान चेहरे पर पिंपल्स होना नॉर्मल है क्योंकि गर्भावस्था मे आपके शरीर में बहुत से हार्मोन परिवर्तन होते हैं जिसकी वजह से यह समस्याएं देखने को मिलती हैं। आप परेशान मत हो। आप संतुलित और पौष्टिक भोजन खाएं। ज्यादा मात्रा में पानी पिए। तनाव मुक्त रहें। स्पाइसी और ऑयली फूड ना खाएं। गर्भावस्था में मुहांसों से बचने के लिए मेकअप का कम से कम प्रयोग करें ।आप धूप में बाहर निकले तो अपने चेहरे को ढक कर के निकले ।आप मुहांसों पर दूध,मुल्तानी मिट्टी ,नीम, बेसन, हल्दी आदि का पेस्ट लगाकर इन्हें कम कर सकती हैं। आप अपने चेहरे को दिन में कई बार धोए और उस पर मॉस्चराइजर क्रीम लगाएं।
»सभी उत्तरों को पढ़ें
सवाल: एन.टी. स्कैन के बाद ऑर भि सोनोग्राफी होती है क्या ?
उत्तर: हेलो डियर, बिल्कुल एंटी स्कैन आप की प्रेग्नेंसी का दूसरा स्थान होता है इसके बाद दो स्कैन और होते हैंl *तीसरा स्कैन 18 से 20 सप्ताह के बीच किया जाता है इसे anomaly स्कैन कहते हैं इस स्कैन में बच्चे का मस्तिष्क है फेफड़ा पूरे बॉडी पार्ट्स सब चेक किए जाते हैंl *चौथा स्कैन 28 से 38 सप्ताह में किया जाता है इसे growth or fetal wellbeing scan कहते हैं इसमें हम बच्चे का विकास और amniotic fluid को चेक करते हैंl
»सभी उत्तरों को पढ़ें