बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से कैसे बचें? (Bache ki toilet training ke dauran tanav se kaise bache)

बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से कैसे बचें? (Bache ki toilet training ke dauran tanav se kaise bache)

दिन-भर बच्चे को शौचालय का उपयोग करने की याद दिलाना, बार-बार उसके गंदे कपड़े बदलना और गीले फर्श व बिस्तर को साफ करना काफी थका देने वाला काम है। मगर, बच्चे को टॉयलेट ट्रेनिंग (potty training in hindi) देने के दौरान ये सब आम है। इस दौरान कई कारणों से आप परेशान व तनाव-ग्रस्त हो सकते हैं और बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग (toilet training in hindi) पर इसका गलत असर पड़ सकता है। इसलिए उसे शौचालय का उपयोग सिखाते समय आपको तनाव नहीं लेना चाहिए और शांत रहना चाहिए।

लेकिन, इस दौरान तनाव से कैसे बचें? घबराइए मत जनाब! इस ब्लॉग में हम आपको बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के कुछ खास उपाय बता रहे हैं। इनकी मदद से आप उसे बिना किसी तनाव के शौचालय का उपयोग करना सीखा सकते हैं।

बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के 7 उपाय

(Bache ki toilet training ke dauran tanav se bachne ke 7 upay)

1. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: सिखाने का सही तरीका अपनाएं (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: sahi tarike se sikhaye) Stress free potty training - sahi tareeka apnaye

बिना सही तैयारी के शुरू करने पर किसी काम के बिगड़ने की आशंका ज्यादा होती है। यही बात बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग (potty training in hindi) पर भी लागू होती है। इसलिए इसकी शुरुआत करने से पहले ही ये तय कर लें कि आप उसे कैसे सिखाएंगे। टॉयलेट ट्रेनिंग का सही तरीका चुनने के लिए आप इससे जुड़ी किताबें, लेख आदि पढ़ सकते हैं। अगर इनसे आपको कुछ समझ में नहीं आता है, तो आप इस बारे में डॉक्टर से सलाह भी ले सकते हैं।

साथ ही, इस बात का खास ख़याल रखें कि आप बच्चे को टॉयलेट का उपयोग सिखाने के लिए जो भी तरीका चुन रहे हैं, वो उसके अनुसार ढल पाए।

विशेषज्ञों के अनुसार टॉयलेट ट्रेनिंग (toilet training in hindi) का कोई भी तरीका बाकी सब तरीकों से बेहतर नहीं है। कुछ बच्चे एक तरीके से आसानी से सीखते हैं, तो कुछ के लिए दूसरे तरीकों से सीखना ज्यादा आसान होता है। इसलिए आप शुरुआत में अलग-अलग तरीके आज़माकर देख सकते हैं। फिर जो तरीका आपके बच्चे पर सही काम कर रहा हो, उसे अपनाएं।

इस दौरान यह याद रखें कि एक बार कोई तरीका चुनने के बाद बच्चे को उसी तरीके से सिखाएं। सिखाने का तरीका बार-बार बदलने से वह असमंजस में पड़ सकता है और उसे सिखाना आपके लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है। लेकिन, अगर आपको लग रहा है कि आपके द्वारा चुना गया तरीका बच्चे के लिए सही नहीं है, तो आप बेशक़ उसे बदल सकते हैं।

2. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: दूसरों से अपनी तुलना ना करें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: dusro se tulna na kare) Stress free potty training - dusro se tulna na kare

हम सभी के जीने का तरीका और ज़िंदगी के अनुभव अलग-अलग होते हैं, इसलिए अपनी तुलना किसी और से करना आपके लिए सही नहीं है। हर बच्चा अन्य बच्चों से अलग ढंग से बढ़ता व सीखता है और उसे इसमें उनसे कम या ज्यादा समय लगना सामान्य है।

इसलिए, अगर आपके किसी दोस्त या परिवार के सदस्य के बच्चे ने दो साल की उम्र में शौचालय का उपयोग सीख लिया था और आपका बच्चा तीन साल का होने पर भी ये सब पूरी तरह से सीख नहीं पाया है, तो परेशान ना हों। भले ही थोड़ी देर से सही, लेकिन आपका बच्चा भी टॉयलेट का उपयोग करना सीख जाएगा।

3. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: बिना मांगे सलाह देने वालों से बचें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: har kisi ki salah na mane) Stress free potty training - bina maangi salah na le

कुछ लोग हर बात में अपनी सलाह देना अपना फ़र्ज़ समझते हैं। हालांकि इसमें कोई बुराई नहीं है, लेकिन यह आपका फ़र्ज़ है कि आप हर किसी की सलाह ना मानें। खासतौर पर आपको बिना मांगे मिलने वाली सलाहों को नहीं मानना चाहिए।

अगर आप सभी लोगों की बातों पर ध्यान देंगे, तो असमंजस की स्थिति पैदा होगी और इससे आप तनाव-ग्रस्त हो सकते हैं। इसलिए तनाव व असमंजस से बचने के लिए बिना मांगे सलाह देने वाले लोगों से दूरी बनाकर रखें और ज़रूरत पड़ने पर घरवालों, अनुभवी दोस्तों या डॉक्टर की सलाह लें।

4. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: खुद को थोड़ा समय दें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: khud ko thoda vaqt de) Stress free potty training - thoda samay de

बच्चे को टॉयलेट का उपयोग सिखाने के दौरान हमेशा उसके पीछे ना पड़ें। इससे बच्चा व आप दोनों परेशान हो सकते हैं और तनावपूर्ण स्थिति पैदा हो सकती है। आपको यह समझना चाहिए कि कब आपको उसे टॉयलेट का इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित करना चाहिए और कब आपको पीछे हट जाना चाहिए या किसी अन्य व्यक्ति की मदद लेनी चाहिए।

टॉयलेट ट्रेनिंग (potty training in hindi) के दौरान आप जब भी परेशान हों, तो करीब पांच मिनट के लिए बच्चे से दूर हो जाएं और अपना पसंदीदा गाना सुनें या आंखें बंद करके ध्यान लगाएँ या कुछ खा लें। इसे आपको ऊर्जा मिलेगी और आप शांत मन से उसे दोबारा सिखाने पर ध्यान लगा पाएंगे।

5. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: सब्र से काम लें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: sabra se kaam le)

बच्चे को शौचालय का उपयोग करना सिखाने के दौरान ये आपके लिए सबसे ज़रूरी चीज़ है। उस पर जल्दी सीखने का कोई दबाव ना बनाएं और उसे धीरे धीरे सीखने दें। हो सकता है कि आपका बच्चा एक हफ्ते में सीख जाए या फिर उसे सीखने में एक साल लग जाए। कई बार टॉयलेट का उपयोग सीखने के बाद भी बच्चे कपड़ों में शौच कर देते हैं।

सभी स्थितियां सामान्य हैं, ऐसे में तनाव से बचें और सब्र से काम लें, क्योंकि- ‘सब्र का फल बहुत मीठा होता है!’ इसलिए अपने बच्चे को डांटें नहीं और ना ही उससे ऊंची आवाज़ में बात करें। उसे मुस्कुराते हुए सिखाएं और उसकी टॉयलेट ट्रेनिंग (toilet training in hindi) को मज़ेदार बनाएं।

6. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: घरवालों या दोस्तों से मदद लें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: gharvalo ya dosto ki help le) Stress free potty training - salah le

अगर आप अकेले ही बच्चे को टॉयलेट ट्रेनिंग (potty training in hindi) दे रहे हैं, तो आपके तनाव-ग्रस्त होने की आशंका ज्यादा होती है। इसलिए अगर संभव है, तो इस काम में अपने जीवन-साथी या घर के अन्य सदस्यों की मदद लें। इससे थक जाने पर आप आराम कर सकते हैं और साथी की मदद से उसे टॉयलेट का उपयोग सिखाना जारी रख सकते हैं। मिलजुल कर सिखाने से आपकी चिंता व डर कम होगा और बच्चे को सीखने में मज़ा आएगा।

इसका सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि उसे केवल आपके साथ ही शौचालय जाने की आदत नहीं पड़ेगी। फिर वह दूसरों के साथ भी वहां जा पाएगा और आप बेवजह की परेशानी से बच सकेंगे।

7. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: बच्चे पर भरोसा रखें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: bache par vishvas kare) Stress free potty training - sahi tareeka apnaye

विश्वास में बहुत ताक़त होती है, इसलिए टॉयलेट ट्रेनिंग (potty training in hindi) देने के दौरान अपने बच्चे पर विश्वास करें। उसे बताएं कि आपको यकीन है कि वो जल्दी ही टॉयलेट का उपयोग करना सीख जाएगा। जब भी वो उसके कपड़े खराब करे या शौचालय जाने से डरे तो उसे समझाएं कि आप उसकी सीखने की क्षमता पर भरोसा करते हैं और हर कदम पर उसके साथ खड़े हैं। इससे बच्चे व आप दोनों की चिंताएं कम होंगी और आप सभी के लिए टॉयलेट ट्रेनिंग (toilet training in hindi) सहज हो जाएगी।

बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग (potty training in hindi) के दौरान आपके ऊपर कई तरह के दबाव होते हैं, लेकिन आप इनसे परेशान ना हों। उसे सिखाना कोई आसान काम नहीं है, इसलिए आपके सामने कई तरह की चुनौतियां आना सामान्य है। मगर, आप इन चुनौतियों से हार ना मानें और ब्लॉग में बताए गए उपायों की मदद से शांत व सकारात्मक ढंग से बच्चे को सिखाएं।

अगर आपके मन में इससे जुड़ा कोई सवाल है या आप किसी बात से चिंतित हैं, तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें। भरोसा रखें, अगर आप पक्के इरादे और सच्ची लगन से बच्चे को सिखाएंगे, तो वह देर-सबेर शौचालय का उपयोग करना सीख ही जाएगा।

इस ब्लॉग के विषय- बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के 7 उपाय (Bache ki toilet training ke dauran tanav se bachne ke 7 tips)1. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: सिखाने का सही तरीका अपनाएं (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: sahi tarike se sikhaye)2. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: दूसरों से अपनी तुलना ना करें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: dusro se tulna na kare)3. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: बिना मांगे सलाह देने वालों से बचें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: har kisi ki salah na mane)4. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: खुद को थोड़ा समय दें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: khud ko thoda vaqt de)5. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: सब्र से काम लें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: sabra se kaam le)6. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: घरवालों या दोस्तों से मदद लें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: gharvalo ya dosto ki help le)7. बच्चे की टॉयलेट ट्रेनिंग के दौरान तनाव से बचने के उपाय: बच्चे पर भरोसा रखें (Tips to reduce stress during toilet training in hindi: bache par vishvas kare)
नए ब्लॉग पढ़ें