प्रेगनेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाएं? (Pregnancy ke baad stretch marks kaise hataye)

प्रेगनेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स कैसे हटाएं? (Pregnancy ke baad stretch marks kaise hataye)

स्ट्रेच मार्क्स किसी भी उम्र में हो सकते हैं, लेकिन आमतौर पर गर्भावस्था के बाद महिलाएं इस समस्या से परेशान हो जाती हैं। गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) को हटाने के लिए महिलाएं काफी ज्यादा तनाव ले लेती हैं।

इस ब्लॉग में हम गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) को हटाने के लिए कुछ घरेलू उपाय बताएंगे, जिनकी मदद से स्ट्रेच मार्क्स की समस्या दूर हो जाएगी।

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स क्या है?

(Delivery ke baad stretch marks kya hai)

stretch marks after delivery

स्ट्रेच मार्क्स या खिंचाव के निशान गर्भावस्था का एक हिस्सा है, जिससे लगभग हर महिला को जूझना पड़ता है और यह पेट, जांघ, स्तन आदि जगह हो सकते हैं। कई महिलाएं डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स से घबरा जाती हैं, लेकिन कुछ उपायों को आजमाने से यह ठीक हो जाते हैं।

गर्भावस्था के दौरान पेट की त्वचा में खिंचाव होता है, जिसकी वजह से धीरे धीरे स्ट्रेच मार्क्स बनने लगते हैं। यह लाल रंग से शुरू होते हैं, जिसके बाद यह सफेद या चांदी रंग में बदल जाते हैं। प्रसव के बाद स्ट्रेच मार्क्स होना सामान्य हैं।

गर्भावस्था के छठे और सातवे महीने से ही स्ट्रेच मार्क्स की समस्या शुरू हो जाती है, जोकि प्रसव के बाद बहुत ज्यादा हो जाती है। गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) की ज्यादा समस्या उन महिलाओं को होती है, जिनकी डिलीवरी ऑपरेशन से होती है।

प्रसव के बाद खिंचाव के निशान के कारण क्या है?

(Delivery ke baad stretch marks ke karan kya hai)

after delivery stretch marks

प्रेगनेंसी के बाद महिलाओं में स्ट्रेच मार्क्स के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें से कुछ कारणों के बारे में हम नीचे बताने जा रहे हैं।

प्रेगनेंसी के समय महिलाओं का वजन बढ़ता है और फिर डिलीवरी के बाद उनका वजन कम हो जाता है, जिसकी वजह से भी खिंचाव के निशान की समस्या हो जाती है। दरअसल, डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks in hindi) तेजी से वजन के बढ़ने या कम होने की वजह से भी होते हैं।

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स का दूसरा कारण अनुवांशिक भी हो सकता है। उदाहरण के लिए, अगर आपकी मां को गर्भावस्था के बाद खिंचाव के निशान की समस्या थी, तो आपको भी इस समस्या से जूझना पड़ सकता है।

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के उपाय क्या है?

(Delivery ke baad stretch marks dur karne ke upay kya hai)

pregnancy stretch marks

ज्यादातर महिलाएं प्रसव के बाद स्ट्रेच मार्क्स ( stretch marks in hindi) को देखकर चिंतित हो जाती हैं, क्योंंकि उन्हें लगता है कि अब वह इस समस्या से कभी बाहर नहीं आ सकती हैं, लेकिन प्रेगनेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) से छुटकारा पाने के लिए महिलाएं निम्न उपायों को अपना सकती हैं।

प्रेगनेेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के घरेलू उपाय

(Pregnancy ke baad stretch marks dur karne ke gharelu upay)

तेल से मसाज करें: Pregnancy stretch marks in hindi

pregnancy stretch marks oil massage

स्ट्रेच मार्क्स वाले हिस्से पर आपको तेल से मालिश करनी चाहिए। मालिश करने के लिए महिलाएं नारियल के तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं। नारियल का तेल स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) जल्दी दूर करता है। इसके अलावा महिलाएं जैतून, आरंडी या बादाम का तेल भी इस्तेमाल कर सकती हैं।

अंडा का इस्तेमाल करें: Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and eggs

अंडा में प्रोटीन की मात्रा भरपूर होती है। अंडे के सफेद हिस्से को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाने से जल्दी आराम मिलता है। इसके लिए आपको दो अंडे लेने है, जिसके सफेद हिस्से को स्ट्रेच मार्क्स ( stretch marks in hindi) वाली जगह पर लगाना है, इसके बाद इसे सुखाना है। जब यह अच्छे से सूख जाए तो इसे धोना है, इसके बाद क्रीम लगानी है।

घिसे हुए आलू का इस्तेमाल करें: Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and potato

आलू स्ट्रेच मार्क्स को हटाने में सहायक है। आलू को घिसकर स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks in hindi) वाली जगह पर रोजाना तीस मिनट तक लगाएं, इसके बाद इसे धो लें। ऐसा नियमित करने से खिंचाव के निशान से जल्दी छुटकारा मिल जाएगा।

हल्दी का इस्तेमाल करें: Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and turmeric

हल्दी में मौजूद प्राकृतिक गुण स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) को दूर करने में सहायक है। हल्दी में पानी या तेल मिलाकर पेस्ट बनाएं, फिर इस पेस्ट को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। इस पेस्ट को आपको दिन में 2-3 बार लगाना है, इसका असर जल्दी ही दिखने लगेगा।

नींबू का रस इस्तेमाल करें: Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and lemon

नींबू में मौजूद प्राकृतिक ब्लीच के गुण खिंचाव के निशान दूर करने में कारगर होते हैं। नींबू के रस को रोजाना स्ट्रेच मार्क्स पर लगाने से यह समस्या दूर हो सकती है। इसके अलावा आप चाहे तो नींबू को स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks in hindi) पर 20 मिनट तक रगड़ सकती हैं।

बेकिंग सोडा का इस्तेमाल करें: Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and baking powder

बेकिंग सोडा में नींबू का रस मिलाकर डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स वाले हिस्से पर लगाएं। इसके बाद 20-25 मिनट के लिए उस हिस्से को पन्नी से ढक लें। इसके बाद इसे गर्म पानी से धो लें। इसका इस्तेमाल अगर आप रोजाना करेंगी, तो आपको जल्दी छुटकारा मिलेगा।

विटामिन ई का तेल इस्तेेमाल करें (vitamin e oil in hindi): Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and vitamin e oil

बाज़ार में विटामिन ई का तेल आसानी से मिलता है। विटामिन ई के तेल से अगर आप रोजाना 15 से 20 मिनट स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह मालिश करेंगी, तो आपको जल्दी ही आराम मिल जाएगा।

कॉफी और ऐलोवेरा जेल इस्तेमाल करें (coffee and alovera in hindi): Pregnancy stretch marks in hindi

stretch marks and alovera

कॉफी और एलोवेरा जेल के मिश्रण को 3 से 5 मिनट के लिए स्ट्रेच मार्क्स वाले हिस्से पर लगाएं, इसके बाद इसे 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। जब यह सूख जाए तो इसे गर्म पानी से धो लें।बाज़ार में विटामिन ई का तेल आसानी से मिलता है। विटामिन ई के तेल से अगर आप रोजाना 15 से 20 मिनट स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह मालिश करेंगी, तो आपको जल्दी ही आराम मिल जाएगा।

गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के लिए खानपान और व्यायाम

(Pregnancy ke baad stretch marks ka dur karne ke liye khanpan aur vyayam)

stretch marks and exercise

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के लिए घरेलू नुस्खों के साथ साथ खानपान और व्यायाम पर भी विशेष ध्यान देना चाहिए। अगर आप खानपान और व्यायाम पर ज्यादा ध्यान रखेंगी, तो खिंचाव के निशान जल्दी दूर हो जाएंगे । तो चलिए जानते हैं कि स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के लिए आपको क्या क्या खाना चाहिए।

पानी (water in hindi): Pregnancy stretch marks in hindi

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स की समस्या को दूर करने के लिए आपको रोजाना 8 से 10 गिलास पानी पीना चाहिए। पानी त्वचा को नमी प्रदान करता है, जिससे स्ट्रेच मार्क्स की समस्या दूर हो जाती है।

संतरा (ornage in hindi): Pregnancy stretch marks in hindi

संतरे में विटामिन सी होता है, जोकि खिंचाव के निशान को कम करनेे में सहायक है। गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) को दूर करने के लिए संतरा खाना चाहिए।

दूध (milk in hindi): Pregnancy stretch marks in hindi

गर्भावस्था के बाद महिलाओं को दूध पीना चाहिए, क्योंकि दूध में मौजूद विटामिन सी (vitamin c in hindi), कैल्शियम (calcium in hindi) और प्रोटीन (protein in hindi) स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) को कम करता है।

अंडा (egg in hindi): Pregnancy stretch marks in hindi

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के लिए अंडा खा सकते हैं। अंडा खाने से स्ट्रेच मार्क्स जल्दी ही कम हो जाएगें। साथ ही अंडा स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा होता है।

व्यायाम: Pregnancy stretch marks in hindi

गर्भावस्था के समय या बाद में व्यायाम कर पाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन कुछ महिलाएं हल्का फुल्का व्यायाम कर लेती हैं। प्रसव के बाद स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के लिए आपको नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए।

व्यायाम करने से शरीर में ललीचापन आता है, जो स्ट्रेच मार्क्स ( stretch marks in hindi) को दूर करता है। प्रसव के बाद अपनी जीवनशैली में बदलाव करने के लिए आपको रोजाना सुबह टहलने जाना चाहिए। हालांकि, आपको अपनी जीवनशैली (lifestyle in hindi) में तभी बदलाव करना चाहिए, जब आपका शरीर ठीक हो जाए।

डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स को दूर करते समय क्या सावधानी बरतनी चाहिए?

(Stretch marks ko dur krte samay kya savdhani rkhe)

stretch marks after delivery and precaution

प्रेगनेंसी के स्ट्रेच मार्क्स (pregnancy stretch marks in hindi) को दूर करने के उपायों के बार में आप जान चुके हैं, लेकिन सिर्फ उपाय से ही समस्या का समाधान नहीं होता है, इसके लिए कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए, जिसकी चर्चा निम्न है।

खुजली न करें: Pregnancy stretch marks in hindi

कई महिलाएं स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर खुजली करने लगती हैं, जिससे स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks in hindi) कम होने के बजाय बढ़ जाते हैं। डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स को खुजलाना नहीं चाहिए।

शुरूआत में ही इलाज करें: Pregnancy stretch marks in hindi

डिलीवरी के बाद खिंचाव के निशान (stretch marks in hindi) को दूर करने के लिए तभी से कोशिश करनी शुरू कर देनी चाहिए, जब वो लाल रंग के हो, क्योंंकि सफेद रंग के होने के बाद इनसे छुुटकारा पाना काफी मुश्किल हो जाता है।

डॉक्टर की सलाह लें: Pregnancy stretch marks in hindi

डिलीवरी के बाद खिंचाव के निशान (stretch marks in hindi) को दूर करने के लिए डॉक्टर की सलाह के बाद ही कोई दवा लें, वरना त्वचा संबंधी रोगों से भी आपको जूझना पड़ सकता है।

प्रेगनेंसी के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क्स (stretch marks in hindi) की समस्या से महिलाओं को बिल्कुल भी नहीं घबराना चाहिए, बल्कि ऊपर बताए गये उपायोंं को आजमा कर वह इससे छुटकारा पा सकती हैं। इसके अलावा गर्भवती महिलाएं स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के लिए अगर किसी क्रीम की मदद ले रही हैं, तो पहले डॉक्टर से जरूर संपर्क कर लें।

इस ब्लॉग के विषय - डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स क्या है? (Delivery ke baad stretch marks kya hai), प्रसव के बाद खिंचाव के निशान के कारण क्या है? (Delivery ke baad stretch marks ke karan kya hai) ,डिलीवरी के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के उपाय क्या है? (Delivery ke baad stretch marks dur karne ke upay kya hai),प्रेगनेेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के घरेलू उपाय (Pregnancy ke baad stretch marks dur karne ke gharelu upay),गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के लिए खानपान और व्यायाम (Pregnancy ke baad stretch marks ka dur karne ke liye khanpan aur vyayam),डिलीवरी के बादस्ट्रेच मार्क्स को दूर करते समय क्या सावधानी बरतनी चाहिए? (Stretch marks ko dur krte samay kya savdhani rkhe)
नए ब्लॉग पढ़ें