प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ना - घरेलू उपाय और कारण (pregnancy ke baad baal jhadna - gharelu upay aur karan)

प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ना - घरेलू उपाय और कारण (pregnancy ke baad baal jhadna - gharelu upay aur karan)
प्रेगनेंसी के बाद महिलाओं को कई परेशानियों से जुझना पड़ता है जिनमें बाल झड़ने की समस्या एक है। लेकिन नवजात शिशु की देखभाल में महिलाएं इतना व्यस्त हो जाती है कि अपना ख्याल तक नहीं रख पाती। आपके सिर पर करीब 85 प्रतिशत बाल एेसे हैं निरंतर बढ़ते हैं, लेकिन उन्हीं में 15 प्रतिशत बाल एेसे हैं जो एक बार झड़ते हैं और फिर निकल आते हैं। एेसा माना जाता है कि एक दिन में हर इंसान के कम से कम 100 बाल झड़ते हैं, लेकिन यह परेशानी की बात नहीं है। दरअसल, प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना एक अस्थाई अवस्था है, जोकि कुछ समय के बाद अपने आप ठीक हो जाती है। इस ब्लॉग में आपको प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने के कारण और घरेलू उपायों के बारे में बताया जा रहा है - 1. क्या प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना आम है? (kya pregnancy ke baad baalo ka jhadna aam hai) 2. प्रेगनेंसी के बाद बाल क्यों झड़ते हैं? (pregnancy ke baad bal kyun jhadte hai) 3. प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों की घरेलू देखभाल कैसे करें? (pregnancy ke baad jhadte baalo ki gharelu dekhbhal kaise kare) 4. प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों को रोकने के लिए क्या खाना चाहिए? (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke liye kya khana chahiye) 5. प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना कम करने के टिप्स (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke tips) 1. क्या प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना आम है? (kya pregnancy ke baad baalo ka jhadna aam hai) क्या प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना आम है? (kya pregnancy ke baad baalo ka jhadna aam hai) जी हां, प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना आम है और डिलीवरी के करीब चार से पांच महीनों के बाद ही यह समस्या शुरू होती है। भारत में लगभग 70 प्रतिशत से ज्यादा महिलाओं में डिलीवरी के बाद बाल झड़ने की समस्या बढ़ने लगती है। दरअसल, प्रेगनेंसी के दौरान हार्मोनों में हुए बदलाव की वजह से डिलीवरी के बाद बाल झड़ने (hair fall in hindi) की समस्या होती है। लेकिन यह इसका एकमात्र कारण नहीं माना जा सकता।
पढ़े - स्तनपान से जुडी टिप्स (stanpan se judi tips)
2. प्रेगनेंसी के बाद बाल क्यों झड़ते हैं? (pregnancy ke baad bal kyun jhadte hai) प्रेगनेंसी के बाद बाल क्यों झड़ते हैं? (pregnancy ke baad bal kyun jhadte hai) प्रेगनेंसी के दौरान शरीर में एस्ट्रोजेन हार्मोन (estrogen hormone in hindi) की मात्रा बढ़ने की वजह से बालों का झड़ना बंद हो जाता है लेकिन प्रेगनेंसी के बाद एस्ट्रोजेन हार्मोन की मात्रा कम होने लगती है और बाल झड़ने लगते हैं। ये वही बाल होते हैं जो प्रेगनेंसी में झड़ने चाहिए मगर झड़े नहीं। इसे डिलीवरी के बाद बाल झड़ने का प्रमुख कारण माना जाता है। इसके अन्य कई कारण भी हो सकते है, जो नीचे बताए गए हैं -
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने के कारण : पौष्टिक आहार की कमी से - डिलीवरी के बाद बच्चे की देखभाल में व्यस्त मां को अपनी स्वास्थ्य का ध्यान नहीं रहता और कई बार मांओं में पौष्टिक आहार की कमी की वजह से प्रेगनेंसी में बाल झड़ने लगते हैं।
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने का कारण : आनुवांशिक या जेनेटिक कारण से - डिलीवरी के बाद बाल झड़ने का एक कारण आनुवांशिक भी हो सकता है। यानी अगर गर्भवती महिला की मां को उनकी डिलीवरी के बाद बाल झड़ने की समस्या हुई हो तो गर्भवती महिला को भी अपनी प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने की समस्या हो सकती है।
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने का कारण : अवसाद और तनाव से - डिलीवरी के बाद तनाव (pregnancy ke baad tanav) होने से हार्मोनों (hormones in hindi) में भी तेजी से बदलाव होता है और इस कारण से बाल झड़ते हैं।
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने का कारण : सिर की त्वचा संबंधी एलर्जी से - डिलीवरी के बाद कई प्रेग्नेंट महिलाओं को सिर की त्वचा संबंधी परेशानी होती है। इसी कारण शुष्क त्वचा से एलर्जी होकर बाल झड़ने लगते हैं।
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने का कारण : थायरायड हार्मोन से - जिन महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान हाइपोथायरायडिज्म (hypothyroidism in hindi) की समस्या होती है। डिलीवरी के बाद उनके शरीर में थायरॉड हार्मोन (thyroid hormone in hindi) की कमी होने लगती है और इसी वजह से उन्हें बाल झड़ने की शिकायत होती है।
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने का कारण : पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम - जो महिलाएं पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम यानी पीसीओएस (polycystic ovary syndrome in hindi) की शिकार होती है उन्हें डिलीवरी के बाद बाल झड़ने की समस्या होती है।
  • प्रेगनेंसी के बाद बाल झड़ने का कारण : संक्रमण से - डिलीवरी के बाद अगर महिला को किसी प्रकार का संक्रमण होता है तो उसकी वजह से बाल झड़ने लगते हैं।
पढ़े - डिलीवरी के बाद पेट कम करने के उपाय (delivery ke baad pet kam karne ke upay)
3. प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों की घरेलू देखभाल कैसे करें? (pregnancy ke baad jhadte baalo ki gharelu dekhbhal kaise kare) प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों की घरेलू देखभाल कैसे करें? (pregnancy ke baad jhadte baalo ki gharelu dekhbhal kaise kare) डिलीवरी के बाद बाल झड़ने के कई कारणों के बारे हमने आपको बताया लेकिन झड़ते बालों को रोकने और नए बाल आने के लिए घरेलू उपायों को जानना भी जरूरी है। घरेलू उपायों की अहमियत आज भी ताजा है और भारत में करीब 90 प्रतिशत महिलाएं बाल झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए इनका उपयोग करती हैं। प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों को रोकने के लिए एेसे करें घरेलू उपाचार -
  • मेथी का करें इस्तेमाल : बाल झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए मेथी का इस्तेमाल किया जाना बेहद गुणकारी होता है। मेथी झड़ते बालों को रोकने और फिर से नए बाल उगाने का काम करती है। इसीलिए डिलीवरी के बाद ज्यादा से ज्यादा मेथी के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है।
    • विधि : मेथी के दानों को रात के समय पानी में भिगो कर रखें। अगले दिन सुबह उन्हें पीस लें। उसके बाद पीसे हुए मेथी के पेस्ट को सिर पर अच्छे से लगाएं। आधे घंटे के बाद बालों को भिगोए हुए मेथी के पानी में सामान्य पानी मिलाकर धो लें। इस विधि को एक हफ्ते में कम से कम दो बार दोहराएं।
  • अंडे की सफेदी भी है उपयोगी : बाल झड़ने की समस्या को रोकने में अंडे की सफेदी बेहद उपयोगी होती है। इसके सही मात्रा में इस्तेमाल से बालों का गिरना कम हो सकता है।
    • विधि : एक अंडे की सफेदी को अलग से एक कटोरी में निकाल कर उसे अच्छी तरह से फेंट लें। उसमें एक चम्मच शहद (honey in hindi) और जैतून का तेल (olive oil in hindi) मिलाएं और पेस्ट बना लें। इसे सिर की त्वचा पर लगाकर आधे घंटे तक रखेें और गुनगुने पानी से धो लें। अंडे नए बाल उगाने में, शहद बालोंं को मुलायम बनाने में और जैतून का तेल बालों मेंं मजबूती और चमक लाने में उपयोगी है।
  • दही से बढ़ेंगे बाल : दही बालों को मुलायम बनाने और बालों को झड़ने से रोकने में मददगार होता है।
    • विधि : दही को अपने दोनों हाथों में लेकर सिर पर अच्छी तरह से लगाएं। करीब 30 मिनट के बाद ही सिर को सामान्य पानी से धो लें।
नोट - एक बात का ख्याल रखें कि दही ठंडी होती है इसीलिए ज्यादा देर तक इसे सिर पर लगाए रखने से आपको अन्य कुछ समस्याएं हो सकती है
  • आंवला का करें उपयोग : आंवला का उपयोग बालों को बढ़ाने और झड़ते बालों की समस्या को कम करने के लिए फायदेमंद माना जाता है।
    • विधि : चार से छह आंवलों को नारियल और बादाम के तेल में डाल कर उसे अच्छी तरह गरम कर लें। आंवलों को तब तक पकने दें जब तक तेल का रंग गहरा नहीं हो जाता। तेल को ठंडा कर लें और हफ्ते में कम से कम दो बार इसका इस्तेमाल करें।
  • अरंडी के तेल का उपयोग : सदियों से अरंडी के तेल (castor oil in hindi) को बालों के लिए फायदेमंद माना जाता है। इसमें ओमेगा - 9 फैटी एसिड (omega - 9 fatty acid in hindi) होता है, जिससे डिलीवरी के बाद बाल झड़ना (hair fall treatment in hindi) कम होता है।
    • विधि : अरंडी के तेल (castor oil in hindi) को नारियल और बादाम के तेल में मिलाकर हल्का गरम कर लें और उसे सिर पर हल्के हाथों से लगाएं। एक घंटे के बाद सिर को सामान्य पानी से धो लें।
  • एलोवेरा का करें उपयोग : नए बाल उगाने में एलोवेरा (aloe vera in hindi) का इस्तेमाल काफी अहम माना जाता है। इसमें विटामीन (vitamin in hindi) और खनिज (minerals in hindi) भरा होता है जिसके सही उपयोग से अापके सिर पर नए बाल आते हैं।
    • विधि : एलोवेरा (aloe vera in hindi) के पत्तो में से जेल को निकाल कर अलग कर लें। फिर उसे हल्के हाथों से सिर की त्वचा में लगाएं। इसके करीब एक घंटे बाद बालों को धो लें। यह विधि हफ्ते में कम से कम तीन बार दोहराएं।आजकल एलोवेरा का जेल बाजार में आसानी से उपलब्द्ध है। घर के आसपास पौधे न होने पर आप बाजार से जेल खरीद कर इस्तेमाल कर सकती हैं।
पढ़े - क्या माँ बनने के बाद 40 दिन का एकांतवास जरूरी है? (40 days confinement after delivery in hindi)
4. प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों को रोकने के लिए क्या खाना चाहिए? (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke liye kya khana chahiye) प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों को रोकने के लिए क्या खाना चाहिए? (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke liye kya khana chahiye) प्रेगनेंसी के बाद शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए स्वस्थ खाना बहुत जरूरी है। अपने रोजमर्रा के भोजन में संतुलन बनाए रखने के लिए भोजन में एेसी चीजों को शामिल करें जिनसे आपके शरीर को जरूरी पोषक तत्व मिल सके। डिलीवरी के बाद झड़ते बालों को रोकने के लिए नीचे बताए गए खाद्य पदार्थों को अपने भोजन में शामिल करे सकते हैं -
  • अंडा - अंडे में अधिक मात्रा में प्रोटीन (protein in hindi) के स्रोत पाए जाते हैं और बाल बढ़ाने के लिए प्रोटीन मददगार होता है। इसीलिए रोजाना अपने भोजन में एक अंडा जरूर शामिल करें।
  • विभिन्न प्रकार के बेरी - बेरी (berries in hindi) के विभिन्न प्रकारों में विटामिन सी (vitamin C in hindi) के स्रोत पाए जाते हैं और यह नए बाल उगाने में भी कारगर होते है, इसीलिए बेरी खाने से आपको नए बाल आ सकते है। बेरी के विभिन्न प्रकारोंं में स्ट्रॉबेरिज, ब्लूबेरिज, रास्पबेरिज आदि शामिल है।
  • पालक - हरी पत्तेदार सब्जियों में पालक सबसे लाभकारी होता है। पालक में फोलेट (folate in hindi), आयरन (iron in hindi), विटामिन ए (vitamin A) और विटामिन सी (vitamin C) के तत्व होते हैं जो बालों को मजबूत करने और बढ़ाने में सहायक होते है।
  • सूखे मेवे - सूखे मेवों (dry fruits in hindi) में पोषक तत्व होते हैं। यह बालों को स्वस्थ रखने और गिरने से बचाने में सहायक होते हैं।
  • बीन्स (हरी फलियां) - विभिन्न प्रकार के बीन्स यानी हरी फलियों में प्रोटीन के तत्व पाए जाते हैं। इसीलिए बाल बढ़ाने के लिए बीन्स को भोजन में शामिल करें।
  • एवोकाडो - स्वस्थ बालों के लिए एवोकाडो यानी बटर फ्रूट (avocado in hindi) भी खाया जाता है। एवोकाडो में भरपूर मात्रा में विटामीन सी (vitamin C) के तत्व पाए जाते हैं जो बालों को बढ़ने में मदद करते है।
पढ़े - प्रेगनेंसी के बाद पहला मासिक धर्म कब आता है? (First periods after pregnancy in hindi)
5. प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना कम करने के टिप्स (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke tips) प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना कम करने के टिप्स (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke tips)
  • हफ्ते में एक बार तेल जरूर लगाएं।
  • बालों में नियमित रूप से शैम्पू और कंडिशनर लगाएं।
  • बालों को गरम पानी से न धोएं।
  • जब बाल गीले हों तो उस पर कंघी न करें।
  • अपनी कंघी का चयन अच्छे से करें।
  • बालोंं को कस कर न बाधें।
  • बालों पर किसी इलेक्ट्रिकल उपकरण का इस्तेमाल न करेंं, जैसे ब्लोड्रायर एवं स्ट्रेटनर।
  • घर से बाहर निकलते वक्त अपने बालों को ढक लें।
  • चिकित्सक की सलाह पर अपने संतुलित आहार का चार्ट बनाएं।
डिलीवरी के बाद पोषक तत्वों जैसे आयरन (iron in hindi), जिंक (zinc in hindi), कम मात्रा में वसीय अम्ल (fatty acid in hindi), विटामीन डी (vitamin D in hindi) की कमी को पूरी न होने पर आपको बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है इसीलिए अपने आहार में इन्हें शामिल करें। ब्लॉग में बताए गए उपायों को अाज़मा कर भी अगर आपके बालों के झड़ने की समस्या खत्म नहीं होती तो आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।
पढ़े - सीजर डिलीवरी ऑपरेशन के बाद कैसे सोना चाहिए? (Cesarean Delivery ke baad kaise soye in hindi)
इस ब्लॉग के विषय - 1. क्या प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना आम है? (kya pregnancy ke baad baalo ka jhadna aam hai), 2. प्रेगनेंसी के बाद बाल क्यों झड़ते हैं? (pregnancy ke baad bal kyun jhadte hai), 3. प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों की घरेलू देखभाल कैसे करें? (pregnancy ke baad jhadte baalo ki gharelu dekhbhal kaise kare), 4. प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों को रोकने के लिए क्या खाना चाहिए? (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke liye kya khana chahiye), 5. प्रेगनेंसी के बाद बालों का झड़ना कम करने के टिप्स (pregnancy ke baad jhadte baalo ko rokne ke tips)
नए ब्लॉग पढ़ें
Healofy Proud Daughter