गर्भवती होने में कितना समय लगता है? (Garbhvati hone me kitna samay lagta hai)

गर्भवती होने में कितना समय लगता है? (Garbhvati hone me kitna samay lagta hai)

इतने दिनों तक गर्भवती होने से बचने के बाद, आखिरकार अब आप गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) कर रही हैं। मगर इस दौरान आपके मन में ये सवाल बार-बार घूम रहा होगा कि ‘मुझे गर्भधारण करने में कितना समय लगेगा?’ आपकी ही तरह ज्यादातर महिलाएं इस दौर से गुजरती हैं। इसलिए आपके मन में इस दौरान थोड़ा डर होना या अजीब ख़याल आना सामान्य है।

हालांकि स्पष्ट तौर पर यह कह पाना ज़रा मुश्किल है कि आपको गर्भवती होने में कितना समय लगेगा, लेकिन अच्छी खबर ये है कि 10 में से 9 महिलाएं लगातार कोशिशें (trying to conceive in hindi) करने पर गर्भवती हो सकती हैं। मगर, इसमें लगने वाला वक़्त सभी के लिए अलग-अलग हो सकता है।

इस ब्लॉग में हम आपको गर्भधारण करने में लगने वाले समय से संबंधित सभी ज़रूरी बातें बता रहे हैं।

गर्भधारण करने में कितना समय लगता है?

(Garbhvati hone me kitna time lagta hai)

Garbhvati hone me samay

इस सवाल का कोई निश्चित उत्तर दे पाना थोड़ा कठिन है, लेकिन कुछ आंकड़ों की मदद से आपको कुछ हद तक इसका जवाब मिल सकता है।

विशेषज्ञों के अनुसार, बिना किसी डॉक्टरी मदद के गर्भवती होने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने वाली स्वस्थ व उचित उम्र की 100 महिलाओं में से -

  • 20 महिलाएं कोशिश के पहले महीने में गर्भवती हो जाती हैं।
  • 70 महिलाएं कोशिश के छह महीनों में गर्भधारण (conception in hindi) कर लेती हैं।
  • 85 महिलाएं कोशिश के पहले साल में गर्भवती हो जाती हैं।
  • 90 महिलाएं कोशिश के डेढ़ साल (18 महीनों) में गर्भधारण कर लेती हैं।
  • 95 महिलाएं दो साल गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने के बाद गर्भवती हो जाती हैं।

इस बात पर विशेष ध्यान दें कि ऊपर दिए गए आंकड़े औसत आंकड़े हैं और विभिन्न स्थितियों के हिसाब से ये बदल सकते हैं। कुछ महिलाओं की गर्भधारण करने की क्षमता अन्य महिलाओं से बेहतर होती है, ऐसे में वो जल्दी गर्भधारण (conception in hindi) कर सकती हैं। वहीं, कुछ महिलाओं की गर्भवती होने की क्षमता कम होने की वजह से उन्हें बाकियों की तुलना में थोड़ा ज्यादा समय लग सकता है।

कुछ महिलाओं को गर्भवती होने में दो साल तक का समय लग सकता है, जोकि सामान्य होता है। अगर ऐसा आपके साथ हो रहा है, तो शायद आपको यह समय थोड़ा ज्यादा लगे, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप किसी यौन समस्या से पीड़ित हैं।

जो महिलाएं गर्भधारण की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने के पहले साल में गर्भवती नहीं हो पाती हैं, उनमें से आधी महिलाएं दूसरे साल लगातार कोशिश करने पर गर्भवती हो जाती हैं।

बढ़ती उम्र गर्भधारण करने की क्षमता को कैसे प्रभावित करती है?

(Badhti umra Garbhvati hone ki kshamta par kaise asar dalti hai)

उम्र बढ़ने के साथ ही महिलाओं के अंडों की गुणवत्ता कम होने लगती है और एक निश्चित उम्र के बाद उनके शरीर में अंडे बनने की प्रक्रिया बंद हो जाती है। सामान्य स्थितियों में ऐसा लगभग पचास वर्ष की उम्र में होता है। इसके साथ ही उम्र बढ़ने के साथ ही आपको गर्भावस्था के दौरान शारीरिक समस्याएं होने की आशंका बढ़ती जाती है।

आपकी उम्र और गर्भधारण करने की क्षमता के बीच स्थित संबंध को निम्न आंकड़ों से समझा जा सकता है -

ध्यान दें - ये आंकड़े सभी तरह से स्वस्थ और यौन समस्याओं से मुक्त महिलाओं के लिए हैं।

  • 20 से 30 वर्ष की उम्र में एक साल तक गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने पर, लगभग 86 प्रतिशत (सौ में से छियासी) महिलाएं गर्भवती हो जाती हैं।

  • 30 से 40 वर्ष की उम्र में एक साल तक गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने पर, लगभग 63 प्रतिशत (सौ में से तिरेसठ) महिलाएं गर्भवती हो जाती हैं।

  • 40 से 42 वर्ष की उम्र में एक साल तक गर्भवती होने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने पर, लगभग 36 प्रतिशत (सौ में से छत्तीस) महिलाएं गर्भधारण कर लेती हैं।

  • 42 से 44 वर्ष की उम्र में एक साल तक गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करने पर, लगभग पंद्रह से पांच प्रतिशत महिलाएं गर्भधारण कर पाती हैं।

  • 45 वर्ष या इससे ज्यादा उम्र होने पर आपका प्राकृतिक रूप से गर्भधारण (conception in hindi) कर पाना लगभग नामुमकिन है। इस स्थिति में आपको गर्भवती होने के लिए डॉक्टरों की मदद लेनी चाहिए।

गर्भधारण करने में लगने वाला समय किन बातों पर निर्भर करता है?

(Pregnant hone me lagne vala time kin chijo par nirbhar karta hai)

Garbhvati hone me samay

आपको गर्भधारण करने में लगने वाला समय कई चीजों पर निर्भर करता है, इनमें से कुछ प्रमुख चीजें निम्न हैं -

  • ओवुलेशन- अंडाशयों से परिपक्व (निषेचन के लिए तैयार) अंडा बाहर निकलने की प्रक्रिया को ओवुलेशन कहा जाता है। गर्भधारण (conception in hindi) करने के लिए आपके अंडाशयों को हर महीने लगभग एक नियमित समय पर ओवुलेशन करना चाहिए। अगर आपका ओवुलेशन नियमित नहीं है, तो आपको गर्भवती होने में कठिनाई आ सकती है। इसके अलावा, ओवुलेशन के बिना आपका प्राकृतिक ढंग से गर्भधारण (conception in hindi) कर पाना असंभव है।

  • सेक्स का समय- गर्भवती होने के लिए आपका सही समय पर सेक्स करना बहुत ज़रूरी है। ओवुलेशन के तीन से चार दिन पहले से लेकर इसके एक दिन बाद तक नियमित रूप से सेक्स करें। अगर आपको ओवुलेशन का दिन नहीं पता है, तो आपको अपने मासिक चक्र के बीच के दस दिनों में लगातार हर दूसरे दिन सेक्स करना चाहिए। ऐसे में, अंडे से आपके पति के शुक्राणु के मिलने की संभावना बढ़ जाती है।

  • आपकी उम्र- ऊपर हमने उम्र और गर्भधारण करने की क्षमता के बीच का संबंध आपको अच्छी तरह से समझाया है। साधारण शब्दों में आपको एक बार फिर बता दें कि आपकी उम्र बढ़ने के साथ ही आपके गर्भधारण (conception in hindi) करने की क्षमता कम होती जाती है। इसलिए आपको समय रहते बच्चे पैदा कर लेने चाहिए।

  • शुक्राणुओं की संख्या व गुणवत्ता- आपके गर्भधारण करने के लिए आपके जीवनसाथी के शुक्राणुओं का स्वस्थ होना बेहद ज़रूरी है। आपके साथी के शुक्राणु जितने बढ़िया होंगे और उनके वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या जितनी ज्यादा होगी, आपके गर्भधारण (conception in hindi) करने की संभावना उतनी ही ज्यादा होगी।

  • फैलोपियन ट्यूब की स्थिति- आपके गर्भवती होने में फैलोपियन ट्यूब का अहम योगदान होता है। अंडे व शुक्राणु का मिलन यहीं होता है और यहां से निषेचित अंडा गर्भाशय तक पहुंचता है। इसलिए गर्भधारण (conception in hindi) करने के लिए आपकी फैलोपियन ट्यूब का साफ व खुला होना ज़रूरी है। अगर इस ट्यूब का आकार सामान्य से छोटा है या इसमें कोई रुकावट है, तो आपको गर्भधारण करने में परेशानी आ सकती है।

  • गर्भनिरोधक का उपयोग- गर्भनिरोधक साधनों का उपयोग गर्भधारण (conception in hindi) से बचने के लिए किया जाता है। कुछ गर्भनिरोधकों का उपयोग बंद करने के बाद भी, आपके शरीर में उनका असर बरकरार रह सकता है।

आमतौर पर प्रोजेस्ट्रॉन हॉर्मोन के इंजेक्शन वाले गर्भनिरोधकों का उपयोग करने के बाद आपको दोबारा गर्भवती होने में लगभग एक साल लग सकता है।

इनकी वजह से कुछ समय के लिए आपका मासिक धर्म अनियमित हो सकता है। लगातार दो से तीन मासिक धर्म नियमित रूप से आने पर आप गर्भवती होने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करना शुरू कर सकती हैं।

किन स्थितियों में आपको गर्भवती होने में सामान्य से ज्यादा समय लग सकता है?

(Kin sthitiyo me apko pregnant hone me samanya se jyada samay lag sakta hai)

Garbhvati hone me samay

निम्न स्थितियों में आपको गर्भवती होने में सामान्य से अधिक समय लग सकता है -

  • उम्र ज्यादा होना- अधिक उम्र में आपके अंडाशय में स्वस्थ अंडे कम बनने लगते हैं, इस वजह से आपको गर्भवती होने में ज्यादा समय लग सकता है।

  • सिगरेट या शराब पीना- आम महिलाओं की तुलना में सिगरेट पीने वाली महिलाओं में बांझपन का खतरा 14 प्रतिशत और समय से पहले अंडाशयों का काम करना बंद करने का खतरा 26 प्रतिशत ज्यादा होता है। इसके साथ ही धूम्रपान करने की वजह से आपकी फैलोपियन ट्यूब, सर्विक्स आदि भी खराब हो सकती हैं।

    ज्यादा शराब पीने से भी आपके अंडाशय खराब हो सकते हैं, जिससे उनमें स्वस्थ अंडे बनने की प्रक्रिया में रुकावट आ जाती है। इसलिए सिगरेट या शराब पीने वाली महिलाओं को गर्भधारण (conception in hindi) करने में ज्यादा समय लग सकता है।

  • वजन सामान्य से कम या अधिक होना- गर्भवती होने के लिए आपका वजन सामान्य होना चाहिए। आपका वजन सामान्य है या नहीं इसकी जानकारी आप डॉक्टर से ले सकती हैं। सामान्य से कम या ज्यादा वजन होने से आपके ओवुलेशन पर गलत असर पड़ता है।

    ज्यादा वजन होने पर, वसा कोशिकाएं अतिरिक्त मात्रा में एस्ट्रोजन हॉर्मोन बनाने लगती हैं। शरीर में ज़रूरत से ज्यादा एस्ट्रोजन उपस्थित होने की वजह से ओवुलेशन गड़बड़ा जाता है। अनियमित ओवुलेशन की वजह से आपको गर्भवती होने में सामान्य से ज्यादा समय लग सकता है।

    वहीं दूसरी तरफ, सामान्य से कम वजन होने की वजह से आपके शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन की कमी हो सकती है। इससे ओवुलेशन में बाधा पैदा हो सकती है और आपको गर्भवती होने में परेशानी हो सकती है।

  • तनावग्रस्त होना- एक शोध के अनुसार, तनावग्रस्त होने के दौरान आपके गर्भवती होने की संभावना आम महिलाओं की तुलना में करीब 40 प्रतिशत तक कम हो जाती है। विशेषज्ञों के अनुसार, तनाव की वजह से आपका मासिक चक्र अनियमित हो सकता है और आपको गर्भवती होने में सामान्य से ज्यादा समय लग सकता है।

  • यौन समस्याएं होना- कई तरह की यौन समस्याओं की वजह से आपको गर्भधारण (conception in hindi) करने में सामान्य से ज्यादा समय लग सकता है। इनमें गर्भाशय में गांठ, फंगस का इंफेक्शन, अंडाशय या गर्भाशय की समस्याएं आदि शामिल हैं। गर्भधारण (conception in hindi) करने से पहले आप इनका इलाज ज़रूर करवाएं, ताकि आपको बाद में किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े।

  • नियमित सेक्स ना करना- आपके गर्भवती होने के लिए यह बेहद ज़रूरी है कि आपके साथी के शुक्राणु और आपके अंडे का मिलन सही समय पर हो पाए। अगर आप नियमित रूप से सेक्स नहीं करती हैं, तो शुक्राणुओं के अंडे से सही समय पर मिल पाने की संभावना घट जाती है। इस स्थिति में, आपको गर्भवती होने में सामान्य से ज्यादा समय लग सकता है।

जल्दी गर्भवती होने के लिए क्या करें?

(Jaldi pregnant hone ke liye kya kare)

Garbhvati hone me samay

निम्न आसान उपायों की मदद से आप जल्दी गर्भवती हो सकती हैं :

  • हफ्ते में कम से कम दो-तीन बार बिना कंडोम के शारीरिक संबंध बनाएं।
  • अपने मासिक चक्र पर नज़र रखें और ओवुलेशन से पहले व ओवुलेशन के दौरान भरपूर सेक्स करें।
  • आप दोनों तनाव से दूर रहें।
  • शारीरिक संबंध बनाते समय खुलकर इसका आनंद लें।
  • सेहतमंद चीज़ें खाएं और पर्याप्त मात्रा में आराम करें।
  • शारीरिक रूप से सक्रिय रहें और हल्का-फुल्का व्यायाम करें। नियमित रूप से पैदल चलना भी आपके लिए बेहतर रहेगा।
  • सभी तरह के नशों (शराब, सिगरेट, हुक्का, गांजा आदि) से दूर रहें और चाय कॉफी पीना बिल्कुल कम कर दें।

गर्भवती होने की कोशिशों के दौरान डॉक्टर की सलाह कब लें?

(Garbhvati hone ki koshisho ke dauran doctor ki salah kab le)

Garbhvati hone me samay

कई लोगों को प्राकृतिक रूप से गर्भधारण करने में परेशानी होती है। आपको जब भी इस बारे में किसी प्रकार की आशंका हो, तो आप डॉक्टर से बात करें।

इसके अलावा गर्भवती होने के दौरान आपको निम्न स्थितियों में डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए :

  • आपको गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) करते हुए एक साल या इससे ज्यादा समय हो गया है और आपको अभी तक सफलता नहीं मिली है।
  • आपकी उम्र 35 वर्ष से ज्यादा है और आप कम से कम छह महीने से गर्भधारण करने की कोशिश (trying to conceive in hindi) कर रही हैं।
  • आपको खुद में या अपने जीवनसाथी में किसी प्रकार की कमी या यौन समस्या होने की आशंका है।
  • आपको या आपके पति को कोई पहले से ज्ञात यौन समस्या (जैसे वीर्य कम होना, शुक्राणुदोष आदि) है।

आपको गर्भधारण (conception in hindi) करने में लगने वाला समय कई चीज़ों जैसे सेक्स का समय, आपकी उम्र व सेहत आदि पर निर्भर करता है। इसलिए अगर आपको तुरंत सफलता नहीं मिलती है, तो परेशान ना हों। ब्लॉग में बताई गई बातों को ध्यान में रखते हुए लगातार कोशिश (trying to conceive in hindi) करती रहें। अगर सब कुछ ठीक रहा, तो आप जल्दी ही गर्भधारण कर सकती हैं।

अगर लगातार कई कोशिशें करने के बाद भी आप गर्भवती नहीं हो पा रही हैं, तो एकबार डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें। आज तकनीक बहुत आगे पहुंच चुकी है और तमाम यौन समस्याओं के बावजूद आप गर्भधारण (conception in hindi) कर सकती हैं। अगर आपका प्राकृतिक रूप से गर्भवती हो पाना संभव नहीं है, तो आप कृत्रिम गर्भाधान की तकनीकों जैसे आई.यू.आई व आई.वी.एफ आदि की मदद ले सकती हैं।

इस ब्लॉग के विषय - गर्भधारण करने में कितना समय लगता है? (Garbhvati hone me kitna time lagta hai)बढ़ती उम्र गर्भधारण करने की क्षमता को कैसे प्रभावित करती है? (Badhti umra Garbhvati hone ki kshamta par kaise asar dalti hai)गर्भधारण करने में लगने वाला समय किन बातों पर निर्भर करता है? (Pregnant hone me lagne vala time kin chijo par nirbhar karta hai)किन स्थितियों में आपको गर्भवती होने में सामान्य से ज्यादा समय लग सकता है? (Kin sthitiyo me apko pregnant hone me samanya se jyada samay lag sakta hai)जल्दी गर्भवती होने के लिए क्या करें? (Jaldi pregnant hone ke liye kya kare)गर्भवती होने की कोशिशों के दौरान डॉक्टर की सलाह कब लें? (Garbhvati hone ki koshisho ke dauran doctor ki salah kab le)
नए ब्लॉग पढ़ें