गर्भवती होने के लिए कौन से पोषक तत्व लेने चाहिए? (pregnant hone ke liye kon se poshak tatv lene chahiye)

गर्भवती होने के लिए कौन से पोषक तत्व लेने चाहिए? (pregnant hone ke liye kon se poshak tatv lene chahiye)

गर्भवती होने के लिए महिलाओं को अपने आहार में पोषक तत्वों को शामिल करना बेहद जरूरी होता है। विभिन्न प्रकार के पोषक तत्वों में प्रोटीन (protein in hindi), विटामिन (vitamins in hindi) और खनिज तत्व (minerals in hindi) शामिल हैं।

प्रेगनेंसी की तैयारी कर रही कई महिलाओं को यह पता नहीं होता कि शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी को पूरा करने के लिए क्या खाना चाहिए। इस ब्लॉग में हम आपको बता रहे हैं कि गर्भवती होने के लिए किन पोषक तत्वों की जरूरत होती है और उनके लिए क्या खाना चाहिए।

1. गर्भवती होने के लिए प्रोटीन युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye protein yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye protein kyu khaaye

गर्भवती होने के लिए महिलाओं को अपने भोजन में प्रोटीन युक्त चीजों को ज्यादा प्राथमिकता देनी चाहिए। प्रोटीन युक्त भोजन न केवल उनका वजन नियंत्रित रखने में मदद करता है, बल्कि उनकी गर्भधारण करने की क्षमता को भी बढ़ाता है।

डॉक्टर कहते हैं, जिन महिलाओं को गर्भधारण करने में समस्या आती है, उनमें से कई महिलाओं के शरीर में प्रोटीन की कमी पाई जाती है। एक दिन में कितनी मात्रा में प्रोटीन लेना चाहिए, इसकी सलाह डॉक्टर से लें, क्योंकि हर महिला के शरीर में प्रोटीन की जरूरत अलग हो सकती है।

प्रोटीन के लिए क्या खाएं? (protein ke liye kya khaye)

  • हरी सब्जियां
  • दाल, राजमा, सोयाबीन
  • डेयरी उत्पाद- दूध, दही, पनीर
  • सूखे मेवे- बादाम, काजू
  • मांसाहार- अंडा, मांस, मछली

2. प्रेगनेंट होने के लिए फोलिक एसिड युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye folic acid yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye folic acid kyu khaaye

फोलिक एसिड से महिलाओं की फर्टिलिटी संबंधी समस्याएं दूर होती है। विशेषज्ञ कहते हैं कि प्रेगनेंसी के पहले फोलिक एसिड की भरपूर मात्रा लेने से बच्चे को न्यूरल ट्यूब से जुड़ी समस्याएं (जैसे स्पाइना बिफिडा) होने की आशंका कम होती है।

डॉक्टर, प्रेगनेंसी की तैयारी कर रही महिलाओं को फोलिक एसिड की मात्रा, खाने की वस्तुओं के माध्यम से लेने की सलाह देते हैं। कभी कभी भोजन से फोलिक एसिड की मात्रा पूरी न होने पर वे महिलाओं को इसकी गोलियां देते हैं।

फोलिक एसिड के लिए क्या खाएं? (folic acid ke liye kya khaye)

  • चावल
  • राजमा
  • खट्टे फल

3. गर्भवती होने के लिए आयरन युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye iron yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye iron kyu khaaye

गर्भधारण से पहले महिलाओं के शरीर में खून की पर्याप्त मात्रा होना बेहद जरूरी होता है, क्योंकि शिशु का विकास मां खून के ज़रिए ही होता है।

जो महिलाएं प्रेगनेंसी से पहले खून की कमी यानी एनीमिया से पीड़ित होती है, डॉक्टर उन्हें खून की कमी को पूरा करने के लिए भरपूर मात्रा में आयरन युक्त चीजें खाने की सलाह देते हैं। कभी कभी भोजन से खून की कमी पूरी न होने पर डॉक्टर महिलाओं को आयरन की गोलियां देते हैं।

आयरन के लिए क्या खाएं? (iron ke liye kya khaye)

  • सब्जियां- हरी पत्तेदार सब्जियां (पालक, मेथी, हरा प्याज आदि), चुकंदर, आलू, मटर, राजमा, लोबिया
  • साबुत अनाज- बाजरा, रागी
  • सूखे मेवे- अंजीर, किशमिश
  • गुड़
  • कम वसा वाला मांस

4. प्रेगनेंट होने के लिए कैल्शियम युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye calcium yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye calcium kyu khaaye

कैल्शियम एक ऐसा पोषक तत्व है, जिससे महिलाओं का प्रजनन तंत्र स्वस्थ रहता है और इससे उन्हें गर्भधारण करने में मदद मिलती है। कई अध्ययनों के अनुसार, भ्रूण की वृद्धि की प्रक्रिया में कैल्शियम एक महत्वपूर्ण घटक होता है। महिला के शरीर में कैल्शियम की उपयुक्त मात्रा होने पर उसके गर्भधारण की संभावना बढ़ सकती है।

कैल्शियम के लिए क्या खाएं? (calcium ke liye kya khaye)

  • सब्ज़ियां व फल- हरी पत्तेदार सब्ज़ियां, संतरा
  • डेयरी उत्पाद- दूध, दही, पनीर
  • सूखे मेवे- खजूर, अंजीर, बादाम

5. गर्भवती होने के लिए आयोडीन युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye iodine yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye iodine kyu khaaye

एक हालिया अध्ययन के अनुसार भारत में ज्यादातर महिलाओं के शरीर में आयोडीन की कमी पाई जाती है। दरअसल, आयोडीन एक प्रकार का खनिज है, जिसकी कमी से महिलाओं की प्रजनन क्षमता पर बुरा असर पड़ता है।

शोध बताते हैं कि जिन महिलाओं के शरीर में आयोडीन की कमी पाई जाती है, उन्हें गर्भधारण करने में परेशानी हो सकती है। इसीलिए गर्भवती होने के लिए महिलाओं को अपने भोजन में पर्याप्त मात्रा में आयोडीन युक्त चीजों को शामिल करना चाहिए।

आयोडीन के लिए क्या खाएं? (iodine ke liye kya khaye)

  • आयोडीन युक्त नमक
  • फल व सब्ज़ियां- आलू, हरी फलियां (ग्वार, सेम, चौलाई आदि), केला, स्ट्रॉबेरी
  • डेयरी उत्पाद- दही, दूध
  • अंडा

6. प्रेगनेंट होने के लिए पोटैशियम युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye potassium yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye potassium kyu khaaye

अध्ययन बताते हैं कि महिलाओं के शरीर में पोटैशियम की कमी की वजह से उनके अंडाशय (ओवरी) में सिस्ट यानी गांठें (overian cyst in hindi) बनने लगती हैं। इससे अंडाशय से अंडे उत्सर्जित होने की प्रक्रिया में बाधा उत्पन्न हो सकती है और यह गर्भधारण न कर पाने का एक प्रमुख कारण बन सकता है। इसीलिए अपने रोजाना के आहार में पोटैशियम की उचित मात्रा शामिल करें।

पोटैशियम के लिए क्या खाएं? (potassium ke liye kya khaye)

  • केला, चुकंदर के पत्ते, शकरकंद, गाजर, अनार
  • नारियल पानी
  • दही
  • खुबानी

7. गर्भवती होने के लिए मैग्नीशियम युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye magnesium yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye magnesium kyu khaaye

मैग्नीशियम शरीर की मांसपेशियों को लचीला बनाता है। सामान्यतः इसकी कमी से महिलाओं को भूख न लगना, थकान, कमजोरी और मांसपेशियों में ऐंठन जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

विशेषज्ञ बताते हैं कि कुछ मामलों में महिलाओं के शरीर में मैग्नीशियम की कमी होने पर उनकी फैलोपियन ट्यूब में ऐंठन हो सकती है। इससे अंडे का निषेचन होने के बाद उसे प्रत्यारोपण के लिए गर्भाशय तक जाने में बाधा आ सकती है।

इसीलिए डॉक्टर अक्सर बांझपन से जूझ रही महिलाओं को अपने आहार में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम को शामिल करने की सलाह देते हैं।

मैग्नीशियम के लिए क्या खाएं? (magnesium ke liye kya khaye)

  • फल व सब्जियां- राजमा, लोबिया, पालक, आलू, केला, गाजर, सेब आदि
  • सूखे मेवे- मूंगफली, काजू, किशमिश
  • साबुत अनाज
  • दूध
  • फाइबर युक्त भोजन

8. प्रेगनेंट होने के लिए जिंक युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye zinc yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye zinc kyu khaaye

जिंक महिलाओं के प्रजनन तंत्र को स्वस्थ एवं सुचारू रखने वाला एक महत्वपूर्ण कारक होता है। यह एक एेसा पोषक तत्व है, जो महिलाओं के शरीर में लगभग 300 विभिन्न प्रकार के एंजाइम्स के साथ मिलकर काम करता है और गर्भधारण करने में उनकी मदद करता है।

इसके अलावा महिलाओं के शरीर में पर्याप्त जिंक की मात्रा, ओवुलेशन, उचित फोलिकुलर तरल स्तर और हार्मोनल संतुलन बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती है।

महिलाओं के शरीर में जिंक की कमी होने पर उन्हें विभिन्न प्रकार की समस्याएं हो सकती है। इनमें उत्तकों का अनुचित विभाजन होना, एस्ट्रोजेन-प्रोजेस्टेरोन हार्मोन्स का असंतुलन एवं प्रजनन तंत्र का सुचारू रूप से काम न करना शामिल है। ये सभी समस्याएं महिलाओं के गर्भधारण न कर पाने का कारण बन सकती हैं।

जिंक के लिए क्या खाएं? (zinc ke liye kya khaye)

  • केला
  • साबुत अनाज
  • दूध से बनी चीजें
  • अखरोट
  • मांसाहार- अंडा, मुर्गी, लालमांस

9. गर्भवती होने के लिए फाइबर युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye fibre yukt khana kyu khaye)

Pregnant hone ke liye fibre kyu khaaye

गर्भवती होने के लिए महिलाओं को उचित मात्रा में फाइबर युक्त चीजें खाना जरूरी है। इससे उनके शरीर में हार्मोनों का संतुलन बना रहता है।

विशेषज्ञ कहते हैं कि भरपूर मात्रा में फाइबर युक्त चीजें खाने से महिलाओं की पीसीओएस (PCOS in hindi), एस्ट्रोजन हार्मोन से होने वाली फर्टिलिटी संबंधी समस्या (estrogen dominant fertility health issues in hindi) और इम्यूनोलॉजिकल इनफर्टिलिटी सम्बन्धी परेशानी (immunological infertility in hindi) दूर होती है। इसके अलावा फाइबर महिलाओं के शरीर में ब्लड शुगर (रक्त शर्करा) की मात्रा को नियंत्रित रखने में भी मदद करता है।

फाइबर के लिए क्या खाएं? (fibre ke liye kya khaye)

  • दलिया, चोकर युक्त आटे से बनी रोटी, ब्राउन ब्रेड
  • फल, पत्तेदार सब्जियां आदि

10. प्रेगनेंट होने के लिए ऊर्जा युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye energy yukt khana kyu khaye)

गर्भवती होने के लिए महिलाओं के शरीर में पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा होना बेहद जरूरी होता है। विशेषज्ञ कहते हैं कि महिलाओं के शरीर में ऊर्जा का स्तर या एनर्जी लेवल कम होने से उन्हें गर्भधारण करने में समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

शरीर में ऊर्जा का स्तर बढ़ाने के लिए खाने की चीजों को ज्यादा असरदार माना जाता है। कुछ महिलाएं ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने के लिए एनर्जी डिंक्स एवं अन्य पूरकों यानी सप्लीमेंट्स का भी इस्तेमाल करती है, लेकिन इनके इस्तेमाल से पहले आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

ऊर्जा के लिए क्या खाएं? (energy ke liye kya khaye)

  • दाल
  • नारियल पानी
  • नीम्बू पानी, फलों का जूस
  • दूध

11. गर्भवती होने के लिए विटामिन युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye vitamin yukt khana kyu khaye)

विशेषज्ञ कहते हैं कि महिलाओं के शरीर में विभिन्न अंगों, एंजाइम्स एवं हार्मोनों का सुचारू रूप से काम करना उनके शरीर में मौजूद विटामिन्स की मात्रा पर निर्भर करता है। विभिन्न प्रकार के विटामिन्स सेक्स हार्मोनों का संतुलन बनाए रखते हैं, जिससे ओवुलेशन संबंधी समस्याएं दूर होती हैं।

प्रेगनेंसी की तैयारी कर रही महिलाओं के शरीर में विटामिन्स की कमी से उन्हें गर्भधारण करने में परेशानी हो सकती है। इससे उनके शरीर में हार्मोनों का असंतुलन हो सकता है, जिससे उन्हें ओवुलेशन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

डॉक्टर कहते हैं कि शरीर में विटामिन की कमी होने पर महिलाओं को विटामिन सप्लीमेंट्स की जगह विटामिन युक्त भोजन को ज्यादा महत्व देना चाहिए।

विटामिन के लिए क्या खाएं? (vitamins ke liye kya khaye)

  • विटामिन ए (Vitamin A)

  • हरी पत्तेदार सब्जियां

  • नारंगी/पीले रंग के फल व सब्जियां

  • दूध व इससे बने पदार्थ

  • विटामिन बी (Vitamin B)

  • फल व सब्जियां- मटर, पालक, मेंथी, टमाटर, लहसुन, शकरकंदी

  • दूध

  • भुने बादाम, मूंगफली

  • जई (ओट्स)

  • अंडा

  • विटामिन सी (Vitamin C)

  • टमाटर, अंगूर, संतरा

  • विटामिन डी (Vitamin D)

  • सूरज की धूप

  • तैलीय मछली

  • विटामिन ई (Vitamin E)

  • पालक, सरसों का साग

  • सोयाबीन

  • बादाम

  • अंडा

  • विटामिन K (Vitamin K)

  • सब्जियां- पालक, खीरा, मटर, फलियां

  • दूध

12. प्रेगनेंट होने के लिए ओमेगा- 3 फैटी एसिड युक्त भोजन क्यों खाएं?

(pregnant hone ke liye omega- 3 fatty acid yukt khana kyu khaye)

गर्भधारण के लिए विभिन्न पोषक तत्वों के साथ उचित मात्रा में फैटी एसिड लेना जरूरी होता है, लेकिन इसे ज्यादा मात्रा में लेना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। इसीलिए गर्भधारण के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड की कितनी मात्रा लेनी चाहिए, इसकी जानकारी डॉक्टर से लें।

ओमेगा- 3 फैटी एसिड के लिए क्या खाएं? (omega- 3 fatty acid ke liye kya khaye)

  • सोयाबीन
  • राई
  • बादाम, अखरोट
  • अंडे की जर्दी, मछली आदि

गर्भधारण करने से पहले यह बहुत जरूरी है कि आप उचित मात्रा में पोषक तत्वों युक्त भोजन करें। इससे आपके शरीर में हार्मोनों का असंतुलन, प्रजनन क्षमता में कमी और अन्य फर्टिलिटी संबंधी समस्याएं दूर हो सकती हैं।

इस ब्लॉग में बताए गए पोषक तत्वों से युक्त खाद्य पदार्थों को आप अपने भोजन में शामिल करें। इनमें से कई चीजों की तासीर गर्म होती है, इसीलिए इन्हें डॉक्टर की सलाह से सीमित मात्रा में ही खाएं।

इस ब्लॉग के विषय- 1. गर्भवती होने के लिए प्रोटीन युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye protein yukt khana kyu khaye)2. प्रेगनेंट होने के लिए फोलिक एसिड युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye folic acid yukt khana kyu khaye)3. गर्भवती होने के लिए आयरन युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye iron yukt khana kyu khaye)4. प्रेगनेंट होने के लिए कैल्शियम युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye calcium yukt khana kyu khaye)5. गर्भवती होने के लिए आयोडीन युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye iodine yukt khana kyu khaye)6. प्रेगनेंट होने के लिए पोटैशियम युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye potassium yukt khana kyu khaye)7. गर्भवती होने के लिए मैग्नीशियम युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye magnesium yukt khana kyu khaye)8. प्रेगनेंट होने के लिए जिंक युक्त भोजन क्यों खाएं? (pegnant hone ke liye zinc yukt khana kyu khaye)9. गर्भवती होने के लिए फाइबर युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye fibre yukt khana kyu khaye)10. प्रेगनेंट होने के लिए ऊर्जा युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye energy yukt khana kyu khaye)11. गर्भवती होने के लिए विटामिन युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye vitamins yukt khana kyu khaye)12. प्रेगनेंट होने के लिए ओमेगा- 3 फैटी एसिड युक्त भोजन क्यों खाएं? (pregnant hone ke liye omega- 3 fatty acid yukt khana kyu khaye)
नए ब्लॉग पढ़ें