गर्भधारण से जुड़े 19 मिथक और सच्चाई (19 trying to conceive myths in hindi)

गर्भधारण से जुड़े 19 मिथक और सच्चाई (19 trying to conceive myths in hindi)
यदि आप गर्भधारण करने का सोच रही हैं, तो यह मुमकिन है कि आपके परिवार के सदस्य या अन्य लोग इस बारे में आपको ढेरों सलाह दें। इन सलाहों को सुन कर आप खुश भी हो सकती हैं, लेकिन असल में इनमें से ज्यादातर बातें मिथक होती हैं। गर्भधारण से जुड़े ये मिथक (trying to conceive myths in hindi) या तो पूरी तरह से गलत होते हैं या फिर इनमें आधी सच्चाई होती है। इस ब्लॉग में एेसे ही कुछ प्रचलित मिथक और उनकी पूरी सच्चाई के बारे में बताया गया है। गर्भधारण के मिथक 1 : 40 वर्ष की होने के बाद महिलाएं मां नहीं बन सकतीं (trying to conceive myths in hindi : 40 years ki hone ke baad mahilaye maa nahi ban sakti) गर्भधारण के मिथक 2 : वजन ज्यादा होने पर महिलाएं गर्भधारण नहीं कर सकतीं (trying to conceive myths in hindi : vajan jyada hone par mahilaye gabhdharan nahi kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 3 : कफ सिरप पीने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : cough syrup pine se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 4 : पूर्णिमा की रात सेक्स करने से महिलाएं गर्भवती हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : purnima ki raat sex karne se mahilaye garbhvati ho sakti hai) गर्भधारण के मिथक 5 : ज्यादा एक्सरसाइज करने से महिलाएं मां नहीं बन सकतीं (trying to conceive myths in hindi : jyada exercise karne se mahilaye maa nahi ban sakti) गर्भधारण के मिथक 6 : एक बच्चा गोद लेने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : ek bacha god lene se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 7 : पीरियड में सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण नहीं कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : period me sex karne se mahilaye garbhdharan nahi kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 8 : पीरियड के 14वें दिन सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : period ke 14th din sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 9 : ओवुलेशन के बाद सेक्स करने से महिलाएं गर्भवती हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : ovulation ke baad sex karne se mahilaye garbhvati ho sakti hai) गर्भधारण के मिथक 10 : केवल रोज़ाना सेक्स करने से ही महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : keval rojana sex karne se hi mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 11 : गर्भधारण करने के लिए सेक्स के बाद महिला को आधे घंटे तक बिस्तर पर लेटे रहना चाहिए (trying to conceive myths in hindi : garbhdharan karne ke liye sex ke bad mahila ko adhe ghante tak bistar par lete rehna chahiye) गर्भधारण के मिथक 12 : दिन में दो बार सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : din me do baar sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 13 : दोपहर में सेक्स करने से ही महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : dopahar me sex karne se hi mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 14 : मिशनरी पोजिशन में सेक्स करने से महिलाएं प्रेग्नेंट हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : missionary position me sex karne se mahilaye pregnant ho sakti hai) गर्भधारण के मिथक 15 : सेक्स के दौरान चरमोत्कर्ष प्राप्त करने पर महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : sex ke dauran orgasm prapt karne par mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 16 : रात में लाइट जलाकर सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : raat me light jalakar sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 17 : वीर्य को निगलने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : sperm ko nigalne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) गर्भधारण के मिथक 18 : लुब्रीकेंट के इस्तेमाल से वीर्य को सही जगह पहुंचाने में मदद मिलती है (trying to conceive myths in hindi : lubricant ke istemal se sperm ko sahi jagah pahunchne me madad milti hai) गर्भधारण के मिथक 19 : गर्भनिरोधक दवाइयां लेने से महिलाएं बांझ हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : garbhnirodhak dawaye lene se mahilaye banjh ho sakti hai) गर्भधारण के मिथक 1 : 40 वर्ष की होने के बाद महिलाएं मां नहीं बन सकतीं (trying to conceive myths in hindi : 40 years ki hone ke baad mahilaye maa nahi ban sakti) सच्चाई - यह मिथक पूरी तरह सच नहीं है। शोध बताते हैं कि 40 वर्ष की आयु के बाद भी महिलाएं मातृत्व का अनुभव कर सकती हैं। हालांकि यह सच है कि 40 वर्ष की उम्र में अक्सर महिलाओं की प्रजनन क्षमता कमजोर पड़ने लगती है, जिसकी वजह से उन्हें गर्भधारण करने में मुश्किल हो सकती है। इसके अलावा बढ़ती उम्र में गर्भधारण करने की वजह से उनका गर्भपात होने का खतरा भी बढ़ जाता है। मगर, कई मामलों में यह बातें गलत भी साबित हुई है और देश भर में कई महिलाओं ने 40 वर्ष की उम्र में न केवल गर्भधारण किया है, बल्कि एक स्वस्थ बच्चे को जन्म भी दिया है। गर्भधारण के मिथक 2 : वजन ज्यादा होने पर महिलाएं गर्भधारण नहीं कर सकतीं (trying to conceive myths in hindi : vajan jyada hone par mahilaye gabhdharan nahi kar sakti hai) सच्चाई - इस मिथक के अनुसार, महिला का वजन ज्यादा होने पर वो गर्भधारण नहीं कर सकती, लेकिन यह पूरी तरह से सच नहीं है। वजन ज्यादा होने के बावजूद हर साल दुनियाभर में लाखों महिलाएं गर्भधारण करती हैं। हालांकि महिला को स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य समस्याओं के कारण गर्भधारण करने में कठिनाई हो सकती है। गर्भधारण के मिथक 3 : कफ सिरप पीने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : cough syrup pine se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - कहते हैं कि कफ सिरप पीने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं, लेकिन यह एक मिथक है। दरअसल, एेसी धारणा है कि कफ सिरप में मौजूद गुवाईफेनेसिन (guaifenesin in hindi) द्रव से सर्विक्स से निकलने वाला म्यूकस पतला और कम प्रतिरोधी हो जाता है, जिससे गर्भधारण में सहायता होती है। लेकिन असल में अभी तक इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिल पाया है, इसीलिए इस मिथक पर भरोसा न करें। ज्यादा कफ सिरप आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है, अतः कभी भी डॉक्टर की सलाह के बिना कफ सिरप न पीएं। गर्भधारण के मिथक 4 : पूर्णिमा की रात सेक्स करने से महिलाएं गर्भवती हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : purnima ki raat sex karne se mahilaye garbhvati ho sakti hai) सच्चाई - आपने अपने घर-परिवार या आस-पड़ोस में कई लोगों से सुना होगा कि पूर्णिमा की रात सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती है। यह मिथक सच नहीं है। विशेषज्ञ कहते हैं कि ओवुलेशन (अंडाशय से अंडे उत्सर्जित होना) से ठीक पहले सेक्स करने से गर्भधारण की संभावना सबसे ज्यादा होती है। इसका पूर्णिमा की रात सेक्स करने से कोई संबंध नहीं है। गर्भधारण के मिथक 5 : ज्यादा एक्सरसाइज करने से महिलाएं मां नहीं बन सकतीं (trying to conceive myths in hindi : jyada exercise karne se mahilaye maa nahi ban sakti) सच्चाई - इस मिथक के अनुसार यह माना जाता है कि ज्यादा एक्सरसाइज करने से महिलाएं मां नहीं बन सकती, जो कि सच नहीं है। डॉक्टर्स का मानना है ज्यादा एक्सरसाइज कर के महिलाएं खुद को स्वस्थ गर्भधारण के लिए तैयार करती है, इससे इनफर्टिलिटी (बांझपन) नहीं होती। गर्भधारण के मिथक 6 : एक बच्चा गोद लेने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : ek bacha god lene se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - यह मिथक सच नहीं है। बच्चा गोद लेने का महिला के गर्भधारण करने से किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है। हालांकि अगर आप चाहें तो बच्चा गोद लेने में कोई बुराई नहीं है, लेकिन इस उम्मीद के साथ बच्चा गोद न लें कि इससे आप गर्भधारण कर सकेंगी। गोद लिया गया बच्चा भी आपकी अपनी ही संतान है, इसीलिए उसे भरपूर प्यार दें। गर्भधारण के मिथक 7 : पीरियड में सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण नहीं कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : period me sex karne se mahilaye garbhdharan nahi kar sakti hai) सच्चाई - यह मिथक सच नहीं है। पीरियड (period in hindi) में सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं। गर्भधारण की क्षमता महिला के मासिक धर्म पर नहीं बल्कि उसके ओवुलेशन (अंडाशय से अंडे उत्सर्जित होना) पर निर्भर करती है। अगर कोई महिला अपने पीरियड के अंतिम दिनों में पति के साथ सेक्स करती है तो वह गर्भधारण कर सकती है। असल में शुक्राणु योनि में दो से पांच दिन तक जीवित रह सकते हैं, एेसे में अगर महिला का ओवुलेशन, पीरियड के तीन से चार दिन बाद हो तो गर्भ ठहरने की संभावना होती है। गर्भधारण के मिथक 8 : पीरियड के 14वें दिन सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : period ke 14th din sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई : इस मिथक के अनुसार पीरियड के 14वें दिन सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं, लेकिन यह मिथक पूरी तरह से सच नहीं है। गर्भधारण करने के लिए ओवुलेशन के पहले सेक्स करने या संबंध बनाने की सलाह दी जाती है। इसकी असली वजह यह है कि सेक्स के बाद पुरूष के शुक्राणु महिला की गर्भाशय ग्रीवा यानी सर्विक्स में करीब 72 घंटों तक और अंडे महिला के अंडाशय से निकलने के बाद फैलोपियन ट्यूब में करीब 12 से 24 घंटों तक जीवित रहते हैं। इसीलिए ओवुलेशन से पहले सेक्स करने से अंडे निषेचित होने की संभावना ज्यादा होती है। गर्भधारण के मिथक 9 : ओवुलेशन के बाद सेक्स करने से महिलाएं गर्भवती हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : ovulation ke baad sex karne se mahilaye garbhvati ho sakti hai) सच्चाई - यह एक मिथक है। ओवुलेशन की प्रक्रिया (अंडाशय से अंडे उत्सर्जित होना) गर्भधारण में अहम भूमिका निभाती है। दरअसल, ओवुलेशन के समय उत्सर्जित अंडे महिलाओँ की फैलोपियन ट्यूब में केवल 12 से 24 घंटों तक ही जीवित रहते हैं, इसीलिए ओवुलेशन के बाद सेक्स करने से गर्भधारण की संभावना कम हो सकती है। गर्भधारण के मिथक 10 : केवल रोज़ाना सेक्स करने से ही महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : keval rojana sex karne se hi mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - इस बात में कोई सच्चाई नहीं हैं कि केवल रोज़ाना सेक्स करने से ही महिला गर्भधारण कर सकती है। सच्चाई तो यह है कि समय पर ओवुलेशन होने और सही समय पर सेक्स करने या रिलेशन बनाने से महिला जल्द ही गर्भधारण कर सकती है। आमतौर पर पीरियड सर्किल दोबारा शुरू होने के 14 दिन पहले ओवुलेशन शुरू होता है। पीरियड शुरू होने के करीब 18 दिन पहले से हर दो दिन के अंतराल में यौन संबंध बनाने वाली महिलाएं जल्द ही गर्भधारण कर सकती हैं। गर्भधारण के मिथक 11 : गर्भधारण करने के लिए सेक्स के बाद महिला को आधे घंटे तक बिस्तर पर लेटे रहना चाहिए (trying to conceive myths in hindi : garbhdharan karne ke liye sex ke bad mahila ko adhe ghante tak bistar par lete rehna chahiye) सच्चाई - इस मिथक के अनुसार गर्भधारण करने के लिए सेक्स के बाद महिला को करीब आधे घंटे तक बिस्तर पर लेटे रहना चाहिए, लेकिन यह सच नहीं है। संभोग के बाद पुरूष के कुछ शुक्राणु महिला की गर्भाशय ग्रीवा तक पहुंचने में कामयाब हो जाते हैं। इसके बाद वो अंडे को निषेचित करने की लिए फैलोपियन ट्यूब्स तक जाते हैं, अंडे के सफल निषेचन के बाद महिलाएं गर्भधारण करती हैं। विशेषज्ञ कहते हैं कि गर्भधारण की प्रक्रिया सामान्य और प्राकृतिक होती है, इसके लिए कोई खास उपाय नहीं होता है। गर्भधारण के मिथक 12 : दिन में दो बार सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : din me do baar sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - इस मिथक के अनुसार एेसी धारणा है कि दिन में दो बार संभोग करने से गर्भधारण किया जा सकता है। यह सच नहीं है, क्योंकि इसका अब तक कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिल पाया है। अगर आप गर्भधारण करने का सोच रही हैं, तो विशेषज्ञ, हफ्ते में तीन बार यौन संबंध बनाने को आदर्श मानते हैं। डॉक्टर कहते हैं कि गर्भधारण करने के लिए ज्यादा सेक्स-संबंध बनाने से अक्सर महिला और पुरूष में तनाव का माहौल बन सकता है। कई बार यह शरीर में हार्मोनल असंतुलन का कारण भी बन सकता है। गर्भधारण के मिथक 13 : दोपहर में सेक्स करने से ही महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : dopahar me sex karne se hi mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - यह मिथक सच नहीं है। डॉक्टर, गर्भधारण करने के लिए दिन में किसी निश्चित समय पर सेक्स करने की सलाह नहीं देते हैं। अगर ओवुलेशन सही समय पर हो रहा है, तो दिन के किसी भी समय सेक्स करने या यौन संबंध बनाने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं। गर्भधारण के मिथक 14 : मिशनरी पोजिशन में सेक्स करने से महिलाएं प्रेग्नेंट हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : missionary position me sex karne se mahilaye pregnant ho sakti hai) सच्चाई - कहते हैं कि मिशनरी पोजिशन में सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं, क्योंकि इस पोजिशन में यौन संबंध बनाने से शुक्राणु सर्विक्स तक आसानी से पहुंचते हैं। हालांकि यह सच नहीं है। डॉक्टर कहते हैं कि अगर महिला की श्रोणि तक शुक्राणु पहुंच जाते हैं, तो उसके मां बनने की संभावना बढ़ जाती है, इसके लिए किसी खास पोजिशन में सेक्स करने की जरूरत नहीं होती है। गर्भधारण के मिथक 15 : सेक्स के दौरान चरमोत्कर्ष प्राप्त करने पर महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : sex ke dauran orgasm prapt karne par mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - इस मिथक के अनुसार महिला के चरमोत्कर्ष यानी अॉरगेज़्म प्राप्त करने पर वह गर्भधारण कर सकती है। यह सच नहीं है, बल्कि सच्चाई तो यह है कि अॉरगेज़्म से महिला को केवल सुख का अनुभव होता है। गर्भधारण की प्रक्रिया में अॉरगेज़्म यानी चरमोत्कर्ष का कोई खास महत्व नहीं होता है। गर्भधारण के मिथक 16 : रात में लाइट जलाकर सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : raat me light jalakar sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - इस मिथक के अनुसार, रात में लाइट जलाकर सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं, लेकिन यह सच नहीं है। एेसी अफवाहों पर कई महिलाएं आसानी से भरोसा कर लेती हैं और बाद में मनचाहे नतीजे न मिलने वो पर दुखी हो सकती हैं। गर्भधारण के मिथक 17 : वीर्य को निगलने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : sperm ko nigalne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai) सच्चाई - वीर्य (sperm in hindi) को निगलने का महिलाओं के गर्भधारण करने से कोई संबंध नहीं है, इसीलिए यह मिथक सच नहीं है। एेसा करना या न करना पति-पत्नी की इच्छा पर निर्भर करता है, लेकिन इसका गर्भधारण से कोई संबंध नहीं है। गर्भधारण के मिथक 18 : लुब्रीकेंट के इस्तेमाल से वीर्य को सही जगह पहुंचाने में मदद मिलती है (trying to conceive myths in hindi : lubricant ke istemal se sperm ko sahi jagah pahunchne me madad milti hai) सच्चाई - यह मिथक सच नहीं है। लुब्रीकेंट में एेसे तत्व पाएं जाते हैं, जो स्वस्थ गर्भधारण में बाधा बन सकते हैं। इसके इस्तेमाल से महिला की श्रोणि के पीएच बदलाव हो सकता है और वीर्य की गुणवत्ता कम हो सकती है। गर्भधारण के मिथक 19 : गर्भनिरोधक दवाइयां लेने से महिलाएं बांझ हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : garbhnirodhak dawaye lene se mahilaye banjh ho sakti hai)   सच्चाई - कई लोगों का यह मानना है कि गर्भनिरोधक दवाइयां लेने से महिलाएं बांझ हो सकती है, लेकिन यह मिथक पूरी तरह सच नहीं है। दरअसल, सच्चाई यह है कि जब तक गर्भनिरोधक दवाइयां ली जाती है, महिलाएं केवल तब तक गर्भधारण नहीं कर सकती।

गर्भनिरोधक दवाइयां लेने से महिला के शरीर में जो बदलाव होते हैं, कभी कभी उन्हें संतुलित होने में एक महीने से लेकर साल भर तक का समय लग सकता है। गर्भनिरोधक गोलियां बंद करने के बाद महिलाओं की प्रजनन क्षमता फिर से पहले जैसी हो जाती है।

हर शादी-शुदा महिला का सपना होता है कि वह एक दिन मां बने। एेसे में वह गर्भवती होने के लिए कई उपाय व सलाह अपनाती है। मगर, इनमें से ज्यादातर बातें केवल सामाजिक मान्यताओँ पर आधारित होती हैं, और सच नहीं होतीं। इसीलिए गर्भधारण से संबंधित मिथकों (trying to conceive myths in hindi) पर भरोसा न करें और किसी भी प्रकार की सलाह के लिए प्रसूति विशेषज्ञ या गायनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करें।

इस ब्लॉग के विषय - गर्भधारण के मिथक 1 : 40 वर्ष की होने के बाद महिलाएं मां नहीं बन सकतीं (trying to conceive myths in hindi : 40 years ki hone ke baad mahilaye maa nahi ban sakti), गर्भधारण के मिथक 2 : वजन ज्यादा होने पर महिलाएं गर्भधारण नहीं कर सकतीं (trying to conceive myths in hindi : vajan jyada hone par mahilaye gabhdharan nahi kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 3 : कफ सिरप पीने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : cough syrup pine se mahilaye garbhdharan kar sakti hai),गर्भधारण के मिथक 4 : पूर्णिमा की रात सेक्स करने से महिलाएं गर्भवती हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : purnima ki raat sex karne se mahilaye garbhvati ho sakti hai),गर्भधारण के मिथक 5 : ज्यादा एक्सरसाइज करने से महिलाएं मां नहीं बन सकतीं (trying to conceive myths in hindi : jyada exercise karne se mahilaye maa nahi ban sakti),गर्भधारण के मिथक 6 : एक बच्चा गोद लेने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : ek bacha god lene se mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 7 : पीरियड में सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण नहीं कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : period me sex karne se mahilaye garbhdharan nahi kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 8 : पीरियड के 14वें दिन सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : period ke 14th din sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 9 : ओवुलेशन के बाद सेक्स करने से महिलाएं गर्भवती हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : ovulation ke baad sex karne se mahilaye garbhvati ho sakti hai), गर्भधारण के मिथक 10 : केवल रोज़ाना सेक्स करने से ही महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : keval rojana sex karne se hi mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 11 : गर्भधारण करने के लिए सेक्स के बाद महिला को आधे घंटे तक बिस्तर पर लेटे रहना चाहिए (trying to conceive myths in hindi : garbhdharan karne ke liye sex ke bad mahila ko adhe ghante tak bistar par lete rehna chahiye), गर्भधारण के मिथक 12 : दिन में दो बार सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : din me do baar sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 13 : दोपहर में सेक्स करने से ही महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : dopahar me sex karne se hi mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 14 : मिशनरी पोजिशन में सेक्स करने से महिलाएं प्रेग्नेंट हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : missionary position me sex karne se mahilaye pregnant ho sakti hai), गर्भधारण के मिथक 15 : सेक्स के दौरान चरमोत्कर्ष प्राप्त करने पर महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : sex ke dauran orgasm prapt karne par mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 16 : रात में लाइट जलाकर सेक्स करने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : raat me light jalakar sex karne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 17 : वीर्य को निगलने से महिलाएं गर्भधारण कर सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : sperm ko nigalne se mahilaye garbhdharan kar sakti hai), गर्भधारण के मिथक 18 : लुब्रीकेंट के इस्तेमाल से वीर्य को सही जगह पहुंचाने में मदद मिलती है (trying to conceive myths in hindi : lubricant ke istemal se sperm ko sahi jagah pahunchne me madad milti hai), गर्भधारण के मिथक 19 : गर्भनिरोधक दवाइयां लेने से महिलाएं बांझ हो सकती हैं (trying to conceive myths in hindi : garbhnirodhak dawaye lene se mahilaye banjh ho sakti hai)
नए ब्लॉग पढ़ें