हेलो डियर यह बहुत अच्छी बात है कि आप बच्चे तक माफ कर दूर पहुंचा रही हैं बच्चे के लिए मां का दूध ही सबसे ज्यादा सुरक्षित अवशेष होता है आप बस बॉटल की सफाई का ध्यान रखें आप अगर ब्रेस्ट मिल्क बच्चे को बगल के द्वारा दे रही हैं इसमें कोई भी परेशानी नहीं होगी
स्वास्थ्य प्रेगनेंसी के लिए आपको थोड़ा वजन बढ़ाने की जरूरत है वजन बढ़ाओ के आप नार्मल प्रेगनेंसी वेट में आ जाएंगे जिससे आपको थकान कम होगी और आपको आसानी होगी डिलीवरी में भी इसलिए आप ऐसी चीजें खाएं जो कि आपको वजन बढ़ाने में मदद करें केला खायें केले में बहुत सारा पौष्टिक तत्‍व और आयरन होता है प्रेगनेंसी के समय ब्रेकफास्‍ट के दौरान केला जरुर खाना चाहिये ओटमील आराम से हजम होने वाला फूड है और साथ ही यह आयरन तथा अन्‍य मिनरल भी देता है अनार अनार हीमोग्‍लोबिन की कमी नही होने देता अंडा खायें लेकिन कच्‍चे अंडे बिलकुल न खायें साबुत अनाज और दालें गर्भावती महिलाओं को एक बार में ढेर सारा खाने से बचना चाहिए 2-3 घंटे के अंतराल पर स्‍नैक्‍स लेते रहने से वजन बढ़ता है नियमित रूप से अपने वजन की जांच करायें प्रेगनेन्सी मे एच.बी. की मात्रा सही होना बहुत ज़रूरी है , बहुत सी महिलाओ को खुन की कमी हो जाती है प्रेगनेन्सी मे , आप चिन्ता ना करे , खान पान मे धयान दे , शरीर मे खुन बढ़ेगा . गाजर-चुकंदर का जूस व सलाद खून की कमी को पूरा करते हैं, रोजाना गाजर और आधा गिलास चुकन्दर का रस मिलाकर पीएं, इसका सेवन करने से महिला के शरीर में खून की कमी की समस्या ठीक हो जाती है, अनार , कीवी, ऐपल ये शाब अपने डायट मे शामिल करे खून की कमी होने पर टमाटर का सेवन ज्यादा करें,आप टमाटर का जूस भी ले सकते हैं यह जूस धीरे-धीरे खून की कमी को पूरा कर देते हैं साथ हि डॉक्टर द्वारा बताई गेय सारे मेडिसिन आप समय पर लें .
Few days old baby
सवाल
हेलो डियर छोटे बेबी का 5 से 6 बार पॉटी होना नॉरमल हैबेबी को अकसर पोट्टि की प्रॉब्लम हो जाती है मगर आप बेबी को फीड करना बन्द ना करें ऑर आप कोई भि जादा ऑयली ऑर sapaycy खाना ना खाए इस्से बेबी को यह प्रॉब्लम होती है क्युकी जो आप खाती है वही बेबी को दूध के ज़री ए बेबी तक जता है ऑर उसे नुकसान करता है जिस वजह से भी बेबी को पोट्टि हो सकती है यदि बेबी 1 दिन में 8 से 10 बार पोट्टि करती है तो डॉक्टर के पास ले ज़ाए
7 weeks pregnant mother
सवाल
हेलो डियर, प्रेग्नेंसी के दौरान आपको अधिक कैलोरी के अलावा ऐसे भोजन करने की जरूरत होती है जिस में प्रोटीन, कैल्शियम की मात्रा अधिक हो | नाश्ते से पहले -चार बादाम या 10 किसमिस पानी में भिगोए हुए आप ले सकते हैं, नाश्ते में -वेजिटेबल पराठा ,सिंपल पराठा ,चपाती, इडली डोसा , पोहा ,पनीर पराठा, etc. ले सकती हैं नाश्ता हैवी करने से आपको दिन भर के लिए ऊर्जा मिलती रहेगी| 11:00 बजे के आसपास नाश्ता और लंच के बीच- में आप कोई भी दो फल या मौसमी फ्रूट ले सकती हैं| 1:00 बजे के आसपास लंच में -आप एक कटोरी चावल, एक कटोरी दाल, एक कटोरी सलाद ,एक कटोरी दही ,एक कटोरी मिक्स , तीन चपाती ,चिकन, मछली अंडे ,आदि शामिल कर सकती हैं| 4:00 बजे का स्नैक्स में -स्प्राउट्स, फ्रूट सलाद, ड्राई फ्रूट्स, केला शेक ,एप्पल ,शेक वेजिटेबल सेंडविच, इडली वेजिटेबल सूप, चिकन सूप आदि ले सकती हैं| शाम 7:00 बजे के आसपास evening snacks me -वेजिटेबल सूप, या कोई भी हल्का सूप ले सकती हैं| रात 8:00 रात 9:00 के डिनर -में चपाती, चावल, दाल ,सब्जी ,सलाद, दही छाछ ,आदि ले सकती हैं | रात को सोने से पहले -ड्राई फ्रूट्स वाला दूध प्लेन दूध केसर दूध या चाहे तो आप छाछ भी भी ले सकती है.
कुछ घरेलू उपचार से आप अपने उल्टी पर काबू पा सकते हैं कटे हुए निंबू पर सेंधा नमक और काली मिर्च लगाकर चाटने से उल्टी जैसा लगना और उल्टी होना कम हो जाता है सेंधा नमक जीरा और नींबू को मिलाकर एक डब्बे में रखें और बीच-बीच में थोड़ी मात्रा में से खाते रहे उल्टी जैसा लगना उल्टी होना बंद हो जाएगा Adrak का छोटा टुकड़ा मुंह में रखें रहने से उल्टी जैसा नहीं लगता Khoob पानी पिए ,रोज शाम को थोड़ा वॉक करें जिससे आपका मन फ्रेश रहेगा और ताजी हवा से उल्टी जैसा होना कम हो जाएगा,भले ही आपको भूख लगे या न लगे आप समय पर, पोषक आहार लीजिए क्योंकि यह आपके और आपके बेबी के लिए बेहद जरूरी है,भले ही आपका मन खाने का न कर रहा हो, लेकिन जब आप एक बार धीरे-धीरे खाना शुरू करेंगी तो आपको भूख का अहसास भी होने लगेगा एक साथ खाना ना खाए थोड़ी थोड़ी देर में खाना खाएं थोड़ी एक्सरसाइज भी करें एक्सरसाइज करने से भूख बढ़ती है ,आप हल्की-फुल्की walk कर सकते हैं खाने में कुछ नया ट्राई कीजिए ताकि खाने की और आपकी दिलचस्पी बड़े. सबसे जरूरी बात आप उसके खाना खाएं जो कि आपके और आपके बच्चे की सेहत के लिए अच्छा है , कुछ घरेलू उपचार करके देखें आपको कब्ज़ से आराम मिलेगा एक बात का ध्यान रखें आप कभी भी जोर ना लगाएं, बहुत पानी पिए दिन में कम से कम आज से 10 गिलास पानी जरूर पीएं हैं पानी में आप थोड़ी मात्रा में नींबू और शहद मिलाकर पिएं इससे आपको कब्ज़ आराम मिलेगा खाने में ऐसी डाइट लें जिसमे फाइबर की मात्रा ज्यादा हो जैसे कि दलिया फल फ्रूट , जंग फूड मैदा खाने से बचें 8- 10 किशमिश लेकर रात में पानी में भिगो दें सुबह चबा चबा कर खाएं आप अंजीर भी खा सकते हैं इससे आपको कब्ज़ से राहत मिलेगी
हेलोdear, आप अपनी बेटी को एप्पल पाइनएप्पल पपीता,orange,chiku, अनार, इत्यादि फल दे सकती हैं अगर बेबी को सर्दी है तो केला ,sitafalना दे क्योंकि केले sitafalकी तासीर ठंडी होती है जिससे बच्चों की सर्दी और अधिक बढ़ सकती है | किसी भी फल को खाने के बाद अगर बेबी को सर्दी खांसी या कोई एलर्जी होती है तब आप उस फ्रूट को बेबी को देना बंद कर दे|
hello डियर """मैं आपकी परेशानी समझ सकती हूं बच्चे का गर्भ में उल्टा होना एक ऐसी पोजीशन है जिसने की बेबी का सिर ऊपर की और हो जाता है इस पोजीशन को ब्रीच पोजीशन कहते हैं बेबी गर्भ के अंदर लगातार मूवमेंट करते रहते हैं इसके कारण पोजीशन चेंज होने की भी संभावना हो सकती है ब्रिज पोजीशन में आप लगातार डॉक्टर के संपर्क में रहें और डॉक्टर द्वारा बताए गए तरीके यह एक्सरसाइज को आप जारी रखें अपने आप को बिल्कुल पॉजिटिव रखें क्योंकि बेबी मूवमेंट से पोजीशन से बाहर आने की संभावना भी हो सकती हैं किसी भी प्रकार का स्ट्रेस लेने से आपके बीपी बढ़ने की संभावना हो सकती है संतुलित आहार, 10 से 12 गिलास पानी और हल्का व्यायाम करें | टेक केयर
हेलो डियर प्रेगनेंसी में आफ ग्लूकोस का पानी पी सकती हैं लेकिन आप ध्यान रखें कि आप बहुत ज्यादा ना प्लीज शरीर में ग्लूकोज की मात्रा का होना भी एक सीमित मात्रा में होना अच्छा होता है अगर आप बहुत ज्यादा पीते हैं तो आपको शुगर की प्रॉब्लम भी हो सकती है इसलिए आप कोशिश करें अगर आपको थकान लग रही है या बिजनेस के कारण पीना चाहती हैं तो थोड़े से ठंडे पानी में एक बार या दो बार पी ले