16 weeks pregnant mother

Question: Iam 17 weeks pregnant....mujhe white discharge ho raha hain....aur us area mein bahuth jalan ho raha hain.....main kya karoon????

2 Answers
Question
Answer: Hello dear It is very normal to have a clear and runny, whitish or slightly yellowish vaginal discharge during pregnancy. The discharge is non-smelly in normal conditions. However, if you experience foul smell, bloody or greenish discharge, or itching or a burning sensation, you should immediately consult your doctor, as it could be related to infection.
Answer: Hello dear... White discharge in pregnancy is normal, it happen due to blood flow to vagina, follow these remedies it might be helpful for you... Avoid oil and spicy foods Drink more water Add yogurt in your diet Wear loose and comfortable clothes Include banana,figs in your diet If your discharge is mild yellow or green,please consult doctor
  • avatar
    Anonymous Mom192 days ago

    Thank you

Similar Questions with Answers
Question: Mam Mujhe loose motion ho gaye hain Main Kya Karoon
Answer: cure loose motions using home remedies. Here are a few tried and tested ones that have no side effects. Take ½ spoon mustard speeds and make a paste with hot water. Taking it twice over 3 hours will help. There is nothing like pomegranate seed juice and pomegranate rind to stop loose motions. Try it before anything else because it is effective, safe, tasty and healthy as well. Chew a spoonful of methi seeds and follow it up with two bananas and that should do it. Make sure you consult a doctor because drugs during pregnancy can cause loose motions. It can also be due to viruses or parasites and this could be harmful for you and your baby. If it is due to hormonal changes there is nothing to worry about. Anyway, try these 3 home remedies for loose motions during pregnancy and drink plenty of water.
»Read All Answers
Question: Mujhe bahut jada cheast main jalan aur acidity horahihai .pet heard ho jata hai main kya karoon
Answer: बहुत सी महिलाओं को पहली बार गर्भावस्था के दौरान एसिडिटी और/या छाती में जलन (हार्टबर्न) होती है। यह काफी आम है और कोई नुकसान नहीं पहुंचाती, मगर इससे काफी असहजता और दर्द हो सकता है। आप शायद एसिडिटी और जलन से पूरी तरह छुटकारा न पा सकें, मगर आप कुछ उपाय आजमाकर इसे कम करने का प्रयास अवश्य कर सकती हैं, जैसे कि: तैलीय या मसालेदार भोजन, चॉकलेट, खट्टे फल, शराब और कॉफी, ये सभी खाद्य पदार्थ एसिडिटी को बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। अगर, आपको असहजता महसूस हो, तो कुछ समय के लिए इन पदार्थों से परहेज रखें। कार्बोनेटेड या सोडायुक्त पेयों की बजाय पानी पीएं, क्योंकि इस तरह के पेय पहले से ही काफी अम्लीय होते हैं। रेडीमेड भोजन और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों का सेवन कम करें, जैसे कि टॉमेटो कैचअप, अचार और चटनी आदि। इनमें बहुत ज्यादा मात्रा में नमक, प्रिजर्वेटिव्स और एडिटिव्स होते हैं। एक गिलास ठंडा दूध या एक कटोरी दही का सेवन एसिडिटी और हार्टबर्न का सदियों पुराना इलाज माना जाता है। एक कप कैमोमाइल या अदरक की चाय भी आपको राहत पहुंचा सकती है। कुछ लोगों का मानना है कि केला खाने से भी इसमें फायदा होता है। वैकल्पिक चिकित्सा के पेशेवर अम्लता और छाती में जलन के लक्षणों को कम करने के लिए पिपरमिंट की चाय पीने की सलाह देते हैं। बहरहाल, अन्य हर्बल चाय की तरह गर्भावस्था में पिपरमिंट चाय का सेवन भी सीमित मात्रा में ही किया जाना चाहिए। थोड़ी मात्रा में, लेकिन बार-बार भोजन खाती रहें। भोजन को अच्छी तरह चबाकर खाएं। एक भोजन से दूसरे भोजन के बीच लंबा अंतराल होने से भी एसिडिटी बनने लगती है। भोजन के दौरान बहुत ज्यादा मात्रा में तरल पदार्थ न पीएं। गर्भावस्था के दौरान रोजाना आठ से 12 गिलास पानी पीना जरुरी है, मगर ये एक भोजन से दूसरे भोजन के बीच की अवधि में ही पीएं। कोशिश करें कि रात को आप सोने से करीब तीन घंटे पहले अपना भोजन कर लें। कई बार लेटने से भी छाती में जलन होने लगती है, क्योंकि गुरुत्व बल के कारण पेट से अम्ल बाहर निकलने लगते हैं। रात को देर से भोजन करने पर, कोशिश करें कि खाने के कम से कम एक घंटे बाद ही लेटें। तकिये लगाकर सोएं, ताकि आपके कंधे आपके पेट से ऊंचे रहें। इस मुद्रा में गुरुत्व बल पेट के अम्लों को अपने स्थान पर बने रहने में मदद करेगा और आपके पाचन में सहायता करेगा। अधिकांश अम्लतत्वनाशक दवाओं (एंटेसिड) का सेवन गर्भावस्था में सुरक्षित माना गया है। ये एंटेसिड हार्टबर्न से परेशान करीब 50 प्रतिशत महिलाओं को राहत पहुंचाने में प्रभावी माने जाते हैं। हालांकि, सोडियम बाइकार्बोनेट या मैग्निशियम ट्राइसिलिकेट युक्त एंटेसिड गर्भावस्था में लेने की सलाह नहीं दी जाती। डॉक्टर की पर्ची के बिना मिलने वाली कोई भी दवा या उत्पाद लेने से पहले डॉक्टर से अवश्य पूछ लें।
»Read All Answers
Question: Main 26 week pregnant hoon , aur white discharge ho raha hain issse main paresion hoon , plz help and isse baby par koi effect hota hain kya
Answer: dear white discharge normal....h pregnancy me....if u any itching dan u hv 2 consult ur doc....
»Read All Answers
Healofy Proud Daughter