14 weeks pregnant mother

Question: मेरी पत्नी जो कि 13हफ्ते की प्रेग्नेंट है वो जब कुछ देर तक बैठ कर काम करके खड़ी होती है तो पेट के निचले हिस्से में तेज दर्द होता है पिछले 2दिनों से हो रहा है ऐसा ।इसका क्या कारण हो सकता है कोई डरने वाली बात तो नही ।कृपया बताएं

1 Answers
Question
Answer: Dr. Ko dikhaye ye problem mujhe b thi Dr. NE dawa di thi
Similar Questions with Answers
Question: मेरी पहली डिलीवरी सी-सेक्शन से हुई थी जो कि डेट से 15 दिन पहले यह कह कर की गई थी कि बच्चे के गले के चारो तरफ कॉर्ड है और बच्चे की हार्ट बीट काम हो रही है। तो अब मैं दुबारा माँ बनने वाली हु, क्या फिर से डिलीवरी ऑपरेशन से ही होगी। या नार्मल भी हो सकती है।। कृपया मुझे सही सुखाव दे क्योंकि मैं एक वर्किंग वुमन हु ओर मुझे काफी परेशानी हो जाती है।
Answer: Hello ma'am , Aapki first delivery c- section ke through hua hai or aapki ye second delivery normal ho Sakti hai bilkul but iske liye kuchh chijo ka dhyan rakhna hota hai Jo Mai aapko batane ja rahii hu par normal delivery ke liye ek or chij important hai wo hai aapki first pregnancy ko kitna time hua hai ispe bhi depend karta hai. Agar aapki first pregnancy or second pregnancy me jayeda gap nahii h to muskil ho sakta hai normal delivery me :- Tips for normal delivery:- 1) stay active and exercise regularly. 2) be well hydrate. 3) remove stress free - don't take Stress during pregnancy. 4) be well informed about labour pain and delivery . 5) breathing techniques- ( practising pranayams) . 6) adequate support- this time u have to need for physically support and emotionally support both . 7) need regular perineal massage. 8) rest and sleep . This all things help you for normal delivery . Thanku .
»Read All Answers
Question: हेलो डॉक्टर! मुझे बहुत स्ट्रेस हो रहा है और ऐसा लग रहा है जैसे मैं डिप्रेशन की शिकार हूँ। मेरे पास मेरी २ महीने की बेटी है और मेरी या मेरी बच्ची की देखभाल करने वाला कोई नहीं है। मेरी बेटी जब सोती है तो बस मेरी ही गोद में होती है और जब मैं उसे बिस्तर पर लिटाने की कोशिश करती हूँ तो वह फिर से जग जाती है और रोने लगती है। प्लीज़ मुझे बताएं मैं क्या करूँ? मुझे अपने लिए समय निकालना तो दूर की बात है, मैं बाथरूम तक नहीं जा पाती हूँ। प्लीज़ मुझे कुछ उपाय बताएं।
Answer: Hello dear! पोस्टपार्टम डिप्रेशन बहुत ही आम है, और डिलीवरी के बाद अधिकांशतः महिलाएं इससे ग्रषित होती है। आपको हिम्मत से काम लेना होगा। याद रखिये की आप बहुत स्ट्रांग है, और यह बस एक फेज(phase) है जो जल्द ही चला जाएगा। आप अपने बच्चे की अच्छी तरह से मालिश कीजिये, उसे भी बहुत अच्छा लगेगा, उसके बाद आप उसे पानी से अच्छे से नहला कर, दूध पिलाते पिलाते सुलाने की कोशिश करिये, कुछ ही दिनों में वह इस रूटीन को समझ लेगी और सोने लगेगी। आप अपने पति से इस बारे में बात करिये, चुपचाप रहने से कुछ भी ठीक नहीं होगा। बच्चे की जिम्मेदारी पूरे परिवार की होती है, न ही सिर्फ माँ की। आप अपने खान-पान का ध्यान रखिये। थोड़ा बहुत ध्यान लगाने की कोशिश भी करें। कुछ चीज़ो के लिए आप कोई हेल्प भी रख सकती है घर में जो आपका काम में हाथ बटा सके। बच्चे के साथ खेलिए उसका ध्यान कुछ चीज़ो की तरफ आकर्षित करें। कुछ खिलौनो को देख कर बच्चे बहुत ही उत्साहित हो जाते है, वह भी आप खरीद कर ला सकती है। अपने आस-पड़ोस की महिलाओं से बाते करके उन्हें भी आप शाम को अपने घर बुला सकती है। उदास और हताश रहने से कुछ नहीं होगा , उससे बस सिर्फ और सिर्फ निराशा ही हाथ लगेगी। याद रखिए आप अपनी मदद खुद करेगी तो ही लोग भी आपको सपोर्ट करेंगे। यह समय बहुत ही सुहाना है आपके बच्चे और आपके लिए, फिर कभी लौट कर नहीं आएगा। इसका आनंद उठाइये और अपना ध्यान रखिये।
»Read All Answers
Question: हेलो डॉक्टर! मुझे बहुत स्ट्रेस हो रहा है और ऐसा लग रहा है जैसे मैं डिप्रेशन की शिकार हूँ। मेरे पास मेरी २ महीने की बेटी है और मेरी या मेरी बच्ची की देखभाल करने वाला कोई नहीं है। मेरी बेटी जब सोती है तो बस मेरी ही गोद में होती है और जब मैं उसे बिस्तर पर लिटाने की कोशिश करती हूँ तो वह फिर से जग जाती है और रोने लगती है। प्लीज़ मुझे बताएं मैं क्या करूँ? मुझे अपने लिए समय निकालना तो दूर की बात है, मैं बाथरूम तक नहीं जा पाती हूँ। प्लीज़ मुझे कुछ उपाय बताएं।
Answer: Hello dear! पोस्टपार्टम डिप्रेशन बहुत ही आम है, और डिलीवरी के बाद अधिकांशतः महिलाएं इससे ग्रषित होती है। आपको हिम्मत से काम लेना होगा। याद रखिये की आप बहुत स्ट्रांग है, और यह बस एक फेज(phase) है जो जल्द ही चला जाएगा। आप अपने बच्चे की अच्छी तरह से मालिश कीजिये, उसे भी बहुत अच्छा लगेगा, उसके बाद आप उसे पानी से अच्छे से नहला कर, दूध पिलाते पिलाते सुलाने की कोशिश करिये, कुछ ही दिनों में वह इस रूटीन को समझ लेगी और सोने लगेगी। आप अपने पति से इस बारे में बात करिये, चुपचाप रहने से कुछ भी ठीक नहीं होगा। बच्चे की जिम्मेदारी पूरे परिवार की होती है, न ही सिर्फ माँ की। आप अपने खान-पान का ध्यान रखिये। थोड़ा बहुत ध्यान लगाने की कोशिश भी करें। कुछ चीज़ो के लिए आप कोई हेल्प भी रख सकती है घर में जो आपका काम में हाथ बटा सके। बच्चे के साथ खेलिए उसका ध्यान कुछ चीज़ो की तरफ आकर्षित करें। कुछ खिलौनो को देख कर बच्चे बहुत ही उत्साहित हो जाते है, वह भी आप खरीद कर ला सकती है। अपने आस-पड़ोस की महिलाओं से बाते करके उन्हें भी आप शाम को अपने घर बुला सकती है। उदास और हताश रहने से कुछ नहीं होगा , उससे बस सिर्फ और सिर्फ निराशा ही हाथ लगेगी। याद रखिए आप अपनी मदद खुद करेगी तो ही लोग भी आपको सपोर्ट करेंगे। यह समय बहुत ही सुहाना है आपके बच्चे और आपके लिए, फिर कभी लौट कर नहीं आएगा। इसका आनंद उठाइये और अपना ध्यान रखिये।
»Read All Answers